दफ्तर में घुस कर कांग्रेस नेताओं पर छत्तीसगढ़ पुलिस का बर्बर लाठीचार्ज, कई कार्यकर्ता गंभीर रूप से घायल

बड़ी ख़बर , बिलासपुर, बुधवार , 19-09-2018


congress-lathicharge-bilaspur-chhattisgarh-police

तामेश्वर सिन्हा

बिलासपुर। बिलासपुर पुलिस का खौफनाक चेहरा सामने आया है। बीते कल कांग्रेस भवन में सौ से भी ज्यादा पुलिस कर्मियों ने घुस कर कांग्रेस पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं को बर्बरता से लाठी-डंडों से पीट-पीट कर लहूलुहान कर दिया है ।

पुलिस की बर्बरता कैमरे में क़ैद हुई है। पुलिसवालों ने कांग्रेस कार्यकर्ताओं को जमकर पीटा जिसमें कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अटल श्रीवास्तव घायल हो गये। सैंकड़ों कांग्रेस कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार कर लिया गया। प्रदेश में पहली दफा कांग्रेस कार्यालय में घुस कर पुलिस ने वर्दी का दुरुपयोग करते कांग्रेसियों को पीटने की घटना को चारों ओर निंदा हो रही है । 

कांग्रेस कार्यकर्ताओं के अनुसार यहां का नज़ारा रूह कंपाने वाला था। पुलिस ने कांग्रेस भवन पार्टी कार्यालय के अंदर घुसकर कांग्रेस नेताओं को लाठी से ताबड़तोड़ मारना शुरू कर दिया। कांग्रेस भवन के सभी कमरों व बाथरूम से कांग्रेसियों को चुन-चुनकर वर्दी ने अपनी गुंडागर्दी दिखाई।

घायल कार्यकर्ताओं को तत्काल सिम्स में भर्ती किया गया है। पीसीसी चीफ भूपेश बघेल पुलिस की बर्बरतापूर्वक लाठीचार्ज से लहूलुहान कार्यकर्ताओं से मिलने बिलासपुर के सिम्स पहुंचे ।

उल्लेखनीय है कि नगरीय निकाय मंत्री अमर अग्रवाल द्वारा कांग्रेसियों को कचरा कहे जाने के बयान के विरोध स्वरूप कांग्रेसियों ने कल रैली विरोध यात्रा निकालकर मंत्री अमर अग्रवाल के घर कचरा डाल दिया। पुलिस की कड़ी चौकसी प्रबन्धन के बाद भी झूमाझटकी होने के बाद कांग्रेसी विरोध करने में सफल हो गए। 

एडिशनल एसपी नीरज चंद्राकर को अपनी नाकामी को छुपाने के लिए इस हद तक जाना पड़ा कि उन्होंने कांग्रेस भवन में कांग्रेसियों की ताबड़तोड़ पिटाई की और उनसे अमानवीय व्यवहार करते हुए गाड़ी में डाल दिया।

कांग्रेस नेता अटल श्रीवास्तव ने बताया कि कैबिनेट मंत्री अमर अग्रवाल ने कांग्रेस पार्टी को लेकर अपमानजनक बयान दिया था।  हम सब कांग्रेस कार्यकर्ता शांतिपूर्वक उस बयान का विरोध कर रहे थे और जब मंत्री अमर अग्रवाल के बंगले का घेराव कर हम वापस कांग्रेस भवन लौट आए तब पुलिस को भेजा गया। खास तौर से मुझ पर लाठियां बरसाई गईं। क्योंकि मंत्री अमर अग्रवाल को विकास पर चर्चा करने की मेरी चुनौती  बर्दाश्त नहीं हुई। 

मंत्री अमर अग्रवाल चाहे जितना अत्याचार कर लीजिए। मैं डटा रहूंगा और आपसे जवाब मांगता रहूंगा। आप मेरे सवालों से बचने के लिए भले ही लाठियां बरसाएं।  लेकिन मैं डरने वाला नहीं। मैं आपसे जवाब मांगता रहूंगा। 








Tagcongress lathicharge bilaspur chhattisgarh police

Leave your comment