सामने आया हिंदू तालिबान का क्रूर और वीभत्स चेहरा, एक मुस्लिम मजदूर की हत्या कर बनाया लाइव वीडियो

बड़ी ख़बर , , बृहस्पतिवार , 07-12-2017


video-rajsamand-murder-taliban-hindu-jehad-murder-rajasthan

जनचौक ब्यूरो

नई दिल्ली। देश के जानकार लोग जिस हिंदू तालीबानी खतरे की आशंका जाहिर कर रहे थे वो अपने क्रूरतम और वीभत्स रूप में सामने है। पिछले कुछ सालों से फैलाया जा रहा घृणा और नफरत का बीज अब फल बनकर गिरने लगा है। नतीजे में वो विद्रूप चेहरा सामने खड़ा है जिसको देख पाना किसी भी इंसान के लिए मुश्किल है। 21वीं सदी के भारत में 67 सालों के लोकतंत्र का अगर यही हासिल है तो उसके पूरे बनने पर ही सवाल खड़ा हो जाता है। राजस्थान के राजसमंद से सामने आ रही घटना और उसकी आग की लपटों में कोई एक बेबस इंसान नहीं बल्कि देश का पूरा संविधान, न्यायिक व्यवस्था और लोकतंत्र धूं-धूं कर जल रहा है।

ये मानवता को शर्मसार करने वाली वो तस्वीर है जो बताती है कि अब कुछ बचा नहीं है। अगर बचे हैं तो सिर्फ अपराधी गिरोह और उनका नंगा नाच जो धर्म का भेष धारण कर पूरी मानवता को लील जाने के लिए तैयार है।

मामला राजस्थान के राजसमंद का है। घटना की तस्वीरें और वीडियो वायरल हो गए हैं। नेटवर्क-18 की अंग्रेजी वेबसाइट ने भी इस खबर को विस्तार से दिया है। जिसमें जिहाद का बदला लेने के लिए एक मुसलमान मजदूर की क्रूर तरीके से हत्या कर उसके शव को जला दिया गया है। खबर के मुताबिक पश्चिम बंगाल के मालदा का एक मजदूर राजसमंद में अपने परिवार के साथ मजदूरी करता था। हत्या करने वाले शख्स ने उसे काम देने के बहाने अपने पास बुलाया। हत्यारे का नाम शंभूलाल रेगर बताया जा रहा है। उसने 50 साल के एक अधेड़ जिसका नाम पुलिस मोहम्मद अफरजुल बता रही है, उसकी पहले कुल्हाड़ी और तलवार से निर्मम तरीके से हत्या की। फिर उसके शव को जला दिया। इस पूरी कार्रवाई का उसने अपने दोस्त की मदद से न केवल वीडियो बनाया बल्कि उसमें हत्या और शव को जलाने की बात को भी स्वीकार किया।

वीडियो में दिख रहा है कि अफरजुल आगे चल रहे हैं उनके पीछे शंभूलाल है। मौका पाते ही शंभूलाल पीछे से अफरजुल पर हमला कर देता है। इस प्रक्रिया में एक-दो नहीं बल्कि 25 से ज्यादा बार अफरजुल पर वार किया जाता है। उसके बाद शंभू अपनी मोटरसाइकिल से तलवार निकालकर लाता है और फिर तलवार से अफरजुल का गला काट देता है। इसके पहले अफरजुल लगातार उससे अपनी जान की भीख मांगते हैं लेकिन शंभूलाल पर उसका कोई असर नहीं पड़ता दिखता है। फिर शंभू अधेड़ अफरजुल को आगे के हवाले कर देता है।

वीडियो में शंभू ने हत्या की बात कबूल की है। उसने कहा कि “ये तुम्हारी हालत होगी। ये लव जिहाद करते हैं हमारे देश में। हमारे देश में ऐसा करोगे तो हर जिहादी की हालत ऐसी ही होगी। जिहाद खत्म कर दो।” इसके अलावा एक दूसरे वायरल वीडियो में एक शख्स कहता है कि ये हत्या हिंदुत्व को बचाने के लिए की गयी है। शख्स कह रहा है कि “मेवाड़ को बचाना है। मेवाड़ को एक होकर इस्लामिक जिहाद को यहां से निकालना है। इसलिए मेवाड़ के सभी भाई-बहनों। मैंने जो किया है चाहे अच्छा है या गलत है, लेकिन मुझे जो लगा मैंने किया।”

इस मामले में राजनगर पुलिस स्टेशन के अधिकारी रामसुमेर का कहना है कि ‘बुधवार को राजसमंद के पास एक अधजला शव मिला, जिसकी पहचान मोहम्मद अफरजुल नाम से की गई। बाद में सोशल मीडिया पर भी मर्डर का एक वीडियो वायरल हुआ। हमने वीडियो के जरिए आरोपी की पहचान कर ली है। हमारी टीम उसकी तलाश कर रही है। मोहम्मद अफरजुल राजसमंद में मजदूरी करता था और उसका परिवार भी यहीं रहता है। हत्या के कारणों के बारे में अभी कुछ भी साफ नहीं हुआ है। शंभूलाल के मिलने के बाद ही यह पता चलेगा।’

हालांकि इस घटना के सामने आने के बाद राजस्थान प्रशासन ने तत्काल कदम उठाते हुए मामले की जांच के लिए एसआईटी का गठन कर दिया है। साथ ही राजसमंद में किसी अनहोनी की आशंका को देखते हुए इंटरनेट सेवा भी बंद कर दी गयी है। और शांति बहाल रखने के लिए सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम कर दिए गए हैं।






Leave your comment