पूर्णियां में गैंगरेप के बाद दरिंदों ने दलित युवती को तेजाब से जलाया

बिहार , पूर्णियां, बुधवार , 08-11-2017


dalit-girl-gangrape-tejab-poornian

आशुतोष आर्यन

पूर्णियां। बिहार के पूर्णियां से एक दिल दहलाने वाली खबर आ रही है। शहर के अंतरराज्यीय बस स्टैंड पर शनिवार की रात एक 15 वर्षीय दलित लड़की के साथ अज्ञात लोगों ने गैंग रेप किया। फिर पकड़े जाने के भय से उन लोगों ने युवती को गला दबाकर मार डाला और उनका बहशियानापन यहीं नहीं रुका बाद में तेजाब डालकर युवती के चेहरे को बुरी तरह से क्षतिग्रस्त कर दिया।

घटना सहायक के हाट थाना क्षेत्र के तहत आने वाले पूर्णिया बस स्टैंड की है। रविवार की सुबह एक पंद्रह वर्षीय लड़की का शव मिलने की खबर मिलते ही क्षेत्र में सनसनी फैल गई। सबकी जुबां पर एक ही बात थी कि आखिर इतनी भीड़ वाले इलाके बस स्टैंड में कैसे इस लड़की की हत्या कर दी गई। मृतका माता स्थान चौक सिपाही टोला के पास की रहने वाली है। शनिवार की रात में खाना बनाने के बाद घर से यह कहकर निकली थी कि थोड़ी देर में आ रहे हैं। लेकिन जब वह रात को दस बजे तक नहीं लौटी तो उनके परिजनों ने उसकी खोजबीन शुरू कर दी लेकिन रात भर वह नहीं मिली। सुबह किसी ने सूचना दी कि पूर्णिया बस स्टैंड में हनुमान मंदिर के दक्षिण दिशा में कई माह से खराब पड़ी हेलो ब्रदर बस के अंदर क्षत-विक्षत शव पड़ा है।

तीन दिनों तक शांत रहने के बाद अब प्रशासन नींद से जागा है। बताया जा रहा है कि एसएसपी तक मामला पहुंचाने के बाद पुलिस हरकत में आयी है। इसी बीच सामाजिक-राजनीतिक संगठन भी सक्रिय हो गए हैं। कई दलों के नेताओं ने युवती के परिजनों से मुलाकात कर मामले पर दबाव बनाने का भरोसा दिलाया है। बहरहाल एक बात तो बिल्कुल स्पष्ट हो जाती है कि बिहार में सुशासन का राज सिर्फ किताबी पन्नों तक सीमित है। जमीनी हकीकत एक बिल्कुल दूसरी कहानी कह रही है। 

 










Leave your comment