लोकसभा चुनाव में महागठबंधन भाजपा को शून्य पर आउट करेगा: बाबूलाल मरांडी

झारखंड , , रविवार , 24-03-2019


jharkhand-ranchi-mahagathbandhan-congress-rjd-jmm-jvm-shibbusoren

जनचौक ब्यूरो

रांची। झारखंड में भाजपा 13 तीटों पर तो राज्य में उसकी सहयोगी दल आजसू एक सीट लोकसभा सीट पर चुनाव लड़ेगी। वहीं तमाम अटकलों के बीच महागठबंधन में भी अंतिम दौर के बातचीत के बाद सीटों बंटवारा हो गया है।

राज्य के कुल 14 लोकसभा सीटों पर कांग्रेस 7 सीटों पर तो झारखंड मुक्ति 4 सीटों पर ताल चुनाव ल़ड़ेगी। जबकि राज्य के पहले मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी की पार्टी झारखंड विकास मोर्चा (प्रजातांत्रिक) को 2 सीट दी गई हैं, वहीं राजद को 1 सीट दी गई है। जेएमएम अध्यक्ष शिबू सोरेन के आवास पर 24 मार्च को आयोजित एक प्रेस वार्ता में यह जानकारी दी गई। बंटवारे के मुताबिक कांग्रेस के हिस्से में रांची, धनबाद, खूंटी, चाईबासा, हजारीबाग, चतरा और लोहरदगा 7 सीटें आयी हैं, जबकि 4 सीटों में दुमका, राजमहल, गिरिडीह और जमशेदपुर पर जेएमएम चुनाव लड़ेगी। जेवीएम को 2 सीटें कोडरमा और गोड्डा दी गई हैं, वहीं राष्ट्रीय जनता दल के लिए पलामू लोकसभा सीट छोड़ी गयी है। पहले राजद को चतरा सीट दी गई थी। चूंकि पलामू बिहार से सटा हुआ क्षेत्र है, अत: इसे ही आधार बनाकर राजद को यह सीट दी गई है।

बता दें कि भाजपा के खिलाफ बनने वाले साझा महागठबंधन के बीच सीट शेयरिंग पर बनी आपसी सहमति के बाद झारखंड प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष डॉ. अजय कुमार ने कहा है कि लोकसभा चुनाव कांग्रेस पार्टी के नेतृत्व में और विधानसभा चुनाव झामुमो के नेतृत्व में लड़ा जाएगा। दूसरी तरफ गोड्डा की सीट झारखंड विकास मोर्चा को दिए जाने के बाद कांग्रेस के कद्दावर नेता फुरकान अंसारी नाराज नजर आए, क्योंकि गोड्डा मुस्लिम बहुल क्षेत्र है और फुरकान अंसारी एक बार 2004 में यहां से जीत हासिल कर चुके हैं। लेकिन पिछले दो लोकसभा चुनाव 2009 और 2014 में भाजपा के निशिकांत दुबे ने बाजी मारी है। अत: लोकसभा चुनाव में सीट नहीं मिलने से नाराज फुरकान को मनाने के लिए सभी दलों ने वादा किया कि झारखंड में 2020 में होने वाले राज्यसभा चुनाव में विपक्ष साझा तौर पर अल्पसंख्यक को अपना उम्मीदवार बनाएगा। इसके साथ ही सभी दलों ने एक स्वर में कहा कि बागी नेताओं को किसी भी हाल में महागठबंधन में शामिल नहीं किया जाएगा।

जेएमएम कार्यकारी अध्यक्ष हेमंत सोरेन ने कहा कि राज्य की एक बड़ी आबादी अल्पसंख्यक समुदाय की है। महागठबंधन में शामिल सभी दलों की चिंता है कि उनकी मांगों को नकारा नहीं जाए। इसके लिए सभी दलों ने एक मत से निर्णय लिया है कि आगामी 2020 में जब कभी राज्यसभा चुनाव होंगे, महागठबंधन अल्पसंख्यक समुदाय से ही किसी को उच्च सदन में भेजेगा। ताकि इस वर्ग का भी प्रतिनिधित्व संसद में बना रहे।

वाम दलों के शामिल होने के सवाल पर डा. अजय कुमार का कहना था कि उनकी इच्छा थी कि वाम संगठनों को भी साथ लेकर चला जाय। ऐसे में सभी वाम दल एकजुट होकर एक सीट पर बात करें, तो कांग्रेस पार्टी इसपर विचार करेगी। वहीं आरजेडी के पलामू और चतरा पर चुनाव लड़ने के दावे पर उन्होंने कहा कि उनके लिए एक सीट पलामू छोड़ी गयी है। बातचीत जारी है। जल्द ही आरजेडी को मना लिया जाएगा।

इस अवसर पर हेमंत सोरेन ने कहा कि गुरु जी की उपस्थिति में महागठबंधन की घोषणा कर दी गयी है। अब इसमें कोई किन्तु–परन्तु की बात नहीं है। जहां तक आरजेडी के महागठबंधन में शामिल होने की बात है, तो वह अभी भी कुछ उहांपोह की स्थिति में है। हालांकि उन्होंने दावा किया कि जल्द ही यह मामला निपटा लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि सभी दलों की पहली और अंतिम प्राथमिकता भाजपा का सफाया करना है। इस दौरान उन्होंने अल्पसंख्यकों को लेकर जारी विरोध की बात भी प्रमुखता से रखी।

हेमंत सोरेन ने कहा कि वे सभी वर्गों का हित चाहते हैं। सभी को मिलकर एक बेहतर झारखंड बनाना है। हमें भाजपा के हिन्दु–मुस्लिम वाली राजनीति में नहीं पड़ना है, हमें एक रहना है और अपने संकल्प को पूरा करना है। कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी बड़े भाई की भूमिका में हैं और झामुमो उसके बाद की भूमिका में है।उन्होंने कहा कि जल्द ही एक संयुक्त कमेटी बनेगी, कॉर्डिनेशन कमेटी बनेगी, जिसकी देखरेख में चुनाव लड़ा जायेगा।

इस दौरान जेवीएम सुप्रीमो बाबू लाल मरांडी ने भाजपा पर गंभीर आरोप लगाए। कहा कि पांच साल के कार्यकाल में भाजपा ने पूरे देश के संवैधानिक संस्थाओं को चोट पहुंचाई है। भाजपा ने न्यायपालिका तक को नहीं छोड़ा। वर्तमान परिस्थिति में देश में अल्पसंख्यक समुदाय भयभीत है। मॉब लिचिंग और डंडे से आम जनता की पिटाई एक सामान्य बात हो गई है। जबकि पुलिस देखकर भी इन घटनाओं को अनदेखा कर रही है। इसलिए ऐसी पार्टी को केन्द्र और राज्य दोनों जगहों से उखाड़ फेंकने की जरुरत है। उन्होंने दावा कि लोकसभा चुनाव में महागठबंधन भाजपा को केन्द्र और राज्य दोनों से शून्य पर आउट करेंगे।

 








Tagjharkhand mahagathbandhan congress jmm jvn

Leave your comment