Subscribe for notification

चौकीदार चोर नहीं!

ओह! कोरोना का कहर शबाब पर है। और अब ये अम्फ़न तूफ़ान! ज़िम्मेदारी आपकी बहुत बढ़ गई है चौकीदार जी, किसी ने फ़रमाया।

आप अपना बीपी मत बढ़ाइये। मैं तो पहले भी जिस गली में चोरी-डकैती हो रही हो उससे दो गली छोड़ कर डंडा पटकाता था। अब भी वही करूँगा..!

मेरा काम बस जागते रहो का शोर मचाना है। अब लुटेरे जागें और मालिक सोएं तो इसमें मेरा क्या क़ुसूर? चौकीदार आँखे मटकाते हुए कंधे झटक कर बोला…

(वीना जनचौक की दिल्ली हेड हैं। आप व्यंग्यकार होने के साथ डाक्यूमेंट्री मेकर भी हैं।)

This post was last modified on May 23, 2020 3:51 pm

Share
Published by