बीच बहस

तन्मय के तीर

पश्चिम बंगाल विधानसभा का चुनाव बेहद दिलचस्प हो गया है। बीजेपी का केंद्रीय नेतृत्व मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के खिलाफ अपनी पूरी ताकत लगाए ही था कि ममता पर नंदीग्राम में हमला हो गया जिसमें न केवल उनका पैर फ्रैक्चर हो गया बल्कि उनके शरीर में कई जगह चोटें भी आयीं। इसका नतीजा यह हुआ कि अभी तक ममता के खिलाफ हमलावर बीजेपी को रक्षात्मक होना पड़ गया है और वह जगह-जगह उसमें शामिल न होने की सफाई देती फिर रही है। इस घटना के बाद ममता का यह बयान कि वह ह्वीलचेयर पर चुनाव प्रचार करेंगी और चुनाव सभाओं में हिस्सा लेंगी, बीजेपी के लिए किसी तुषारापात से कम नहीं है। इससे ममता न केवल एक घायल शेरनी के तौर पर देखी जा रही हैं बल्कि उनके प्रति लोगों में सहानुभूति के बढ़ने की संभावना भी बढ़ गयी है। कार्टूनिस्ट तन्मय त्यागी की आज कूंची इस पर चली है।

This post was last modified on March 12, 2021 6:59 pm

Share
%%footer%%