Monday, October 25, 2021

Add News

किसान आंदोलनः 89 दिन में 254 किसानों की गई जान, मोदी सरकार अब भी बेफिक्र

Janchowkhttps://janchowk.com/
Janchowk Official Journalists in Delhi

ज़रूर पढ़े

संयुक्त किसान मोर्चा ने जानकारी साझा की है कि 89 दिन से चल रहे किसान आंदोलन में अब तक 254 किसानों की जान गई है, लेकिन केंद्र सरकार की सेहत पर अब तक कोई असर नहीं हुआ है।

और मेरा समय खत्म होता है अब
“अलविदा! मेरा समय खत्म होता है अब।”- मुख्य और आखिरी वक्ता के तौर पर बोलते हुए किसान नेता दातार सिंह के आखिरी शब्द थे ये। कल अमृतसर के श्री गुरु नानक स्टेडियम के नजदीक स्थित विरसा विहार में कृषि कानूनों से किसानों पर पड़ने वाले प्रभावों पर आयोजित एक सेमिनार में मास्टर दातार सिंह मुख्य वक्ता के तौर पर शामिल हुए। वह अंतिम वक्ता थे जिन्हें इस मुद्दे पर अपने विचार रखने थे।

कार्यक्रम के आखिर में मुख्य वक्ता के तौर पर उन्होंने कृषि कानूनों पर अपनी बात रखी। कृषि कानूनों के विरुद्ध चल रहे किसान आंदोलन पर अपने विचार व्यक्त करने के बाद किरती किसान यूनियन के प्रदेश अध्यक्ष और संयुक्त किसान मोर्चा के सदस्य मास्टर दातार सिंह ‘अलविदा! मेरा समय खत्म होता है।’ कहकर अपनी कुर्सी पर बैठ गए। कुछ पल के बाद उन्हें दिल का दौरा पड़ा और वह कुर्सी से नीचे गिर पड़े। किसान नेताओं ने उन्हें तुरंत एक निजी अस्पताल पहुंचाया। वहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

कार्यक्रम खत्म करने से पहले दातार सिंह को मंच पर बुलाकर सम्मानित भी करना था, लेकिन इससे पहले यह घटना घटित हो गई।

पंजाब सरकार ने 102 परिवारों को दी आर्थिक सहायता
किसान आंदोलन में जान गंवाने वाले पंजाब के 102 किसान परिवारों को पंजाब की कैप्टन अमरिंदर सिंह सरकार ने मुआवजा दिया है। पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने किसान आंदोलन के दौरान एलान किया था कि कृषि कानूनों के खिलाफ़ आंदोलन के दौरान जान गंवाने वाले किसानों के परिवार के एक-एक सदस्य को नौकरी और पांच-पांच लाख रुपये का मुआवजा दिया जाएगा।

आम आदमी पार्टी भी यूपी में आयोजित करेगी किसान पंचायत
कल दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने 50 खाप नेताओं से दिल्ली विधानसभा में मुलाकात की।बैठक में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के साथ ही आम आदमी पार्टी के राज्यसभा सांसद संजय सिंह, दिल्ली सरकार में मंत्री कैलाश गहलोत, राजेंद्र पाल के साथ ही विधानसभा के स्पीकर राम निवास गोयल भी मौजूद थे।

जानकारी के मुताबिक बैठक में ब्रज पाल चौधरी, यश पाल चौधरी, सुभाष चौधरी, रोहित जाखड़ (जाट महासभा), ब्रज वीर सिंह (अहलावत खाप), राकेश सहरावत (सहरावत खाप), ओमपाल सिंह (काकरान खाप), बिल्लु प्रमुख (गुलिया खाप), ऊधम सिंह समेत यूपी की कई खाप पंचायतों के चौधरी शामिल हुए। किसान नेता कुलदीप त्यागी और पूरण सिंह भी बैठक में शामिल हुए थे।

संजय सिंह ने केजरीवाल की किसान नेताओं के साथ बैठक के एजेंडे को लेकर बताया कि 28 फरवरी को मेरठ में एएपी की किसान महापंचायत का आयोजन होना है। इसे लेकर यूपी के कई जिलों में किसान संगठनों के नेताओं से मुलाकात के साथ ही गांव-गांव में जनसंपर्क किया जा रहा है। किसान नेताओं के साथ सीएम केजरीवाल की बैठक किसानों के मसले पर रणनीति तय करने के लिए है।

तत्काल समाचारों के लिए, हमारा जनचौक ऐप इंस्टॉल करें

Latest News

एक्टिविस्ट ओस्मान कवाला की रिहाई की मांग करने पर अमेरिका समेत 10 देशों के राजदूतों को तुर्की ने ‘अस्वीकार्य’ घोषित किया

तुर्की के राष्ट्रपति रेचेप तैय्यप अर्दोआन ने संयुक्त राज्य अमेरिका, जर्मनी, फ़्रांस, फ़िनलैंड, कनाडा, डेनमार्क, न्यूजीलैंड , नीदरलैंड्स, नॉर्वे...
जनचौक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें

Janchowk Android App

More Articles Like This

- Advertisement -