पहला पन्ना

बैटल ऑफ बंगाल: चार युवाओं की मौत के साथ ही चौथे चरण का चुनाव संपन्न, घटना ने लिया राजनीतिक मोड़

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के आज चौथे चरण का मतदान संपन्न हो गया है। सभी 44 सीटों पर कई हाईप्रोफाइल उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला ईवीएम में कैद हो गया है।  चुनाव आयोग की रिपोर्ट के अनुसार शाम 5  बजे तक 76.16 फीसदी मतदान हुआ। सबसे ज्यादा वोटिंग कूचबिहार के अलीपुरदुआर में 73.65 फीसदी हुई। उसके बाद दक्षिण 24 परगना में 75.49, हावड़ा में 75.03 और हुगली में 76.02 फीसदी वोटिंग हुई।

कूचबिहार में हिंसा

आज दिन भर कूचबिहार खबरों का विषय बना रहा। जहां हिंसक घटना में चार लोगों की मौत हो गई है। कूचबिहार के बूथ नंबर 285 पर मतदान केंद्र के बाहर बम फेंके गए और गोलीबारी हुई। पोलिंग बूथ के बाहर फायरिंग में वोट डालने आए एक युवक की मौत हो गई। वहीं दूसरी ओर सीआईएसएफ की गोली से चार लोगों की मौत हो गई। इस बारे में कूचबिहार के एसपी देबाशीष धर ने कहा कि पोलिंग बूथ के पास एक युवक बीमार पड़ गया था। जिसका इलाज चल रहा था। इस दौरान लोगों के बीच यह अफवाह फैल गई कि सीआईएसएफ ने उसे मारा-पीटा है। जिसके बाद गांव से 200-300 व्यक्ति उठकर आ गए और सीआईएसएफ पर हमला कर दिया। जिसके बीच बचाव के दौरान सुरक्षा बल ने फायरिंग शुरु कर दी। जिसमें चार लोगों को गोली लग गई। जिसे गोली लगी उसकी उम्र 20-22 साल थी।

कूच बिहार में पुलिस बल।

 72 घंटे तक कूचबिहार में राजनेताओं की एंट्री पर रोक

इस घटना ने राजनीतिक रुप ले लिया। जिस पर एक-एक करके सभी राजनीतिक पार्टियों ने अपना-अपना बयान दिया। इस घटना के  बाद तृणमूल ने इसकी लिखित शिकायत चुनाव आयोग को दी है। वहीं दूसरी ओर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने सिलीगुड़ी में अपनी एक सभा के दौरान कहा कि आज की घटना के लिए अमित शाह जिम्मेदार हैं। वह ही इस घटना के साजिशकर्ता हैं। मैं केंद्रीय बलों को दोष नहीं दे रही क्योंकि वे गृहमंत्री के आदेश के तहत काम करते हैं। अब इस घटना के बाद चुनाव आयोग ने अगले 72 घंटे तक किसी भी राजनीतिक व्यक्ति के कूचबिहार आने पर रोक लगा दी है।

 अमित शाह के इस्तीफा के मांग

इस घटना ने पूरे देश का ध्यान अपनी ओर खींचा है। तृणमूल कांग्रेस ने सीतालकुची घटना पर गृहमंत्री अमित शाह का इस्तीफा मांगा है। तृणमूल सुप्रीमो ममता बनर्जी ने बंगाल के लोगों से आह्वान किया है कि वे इस घटना पर काली पट्टी बांधकर गृहमंत्री अमित शाह से इस्तीफा मांगें।  वहीं दूसरी ओर सीपीएम महासचिव सीताराम येचुरी ने कहा है कि “केंद्रीय सुरक्षाबल द्वारा चार लोगों पर गोली चलाना पूरी तरह  से गलत है। चुनाव आयोग इस घटना की अच्छी तरह से जांच कराए और दोषियों को सजा दे।“

(पश्चिम बंगाल से पूनम मसीह की रिपोर्ट।)

This post was last modified on April 10, 2021 11:07 pm

Share