Subscribe for notification

सीएए का विरोध कर रहे लोगों पर हमला, पुलिस की मौजूदगी में खुलेआम फायरिंग, कांस्टेबल की मौत, कई इलाकों में दफा 144 लागू

राजधानी दिल्ली में सीएए और एनआरसी के खिलाफ और पक्ष में हो रहे विरोध प्रदर्शन हिंसक हो गए हैं। हिंसा के बीच पुलिस मूक दर्शक बनी रही। खुलेआम स़ड़क पर एक युवक बेखौफ फायरिंग करता रहा। उसे रोकने वाला कोई नही था। यही नहीं इस मामले में सामने आए एक वीडियो में वह करीब खड़ी पुलिस के सामने ही फायरििंग करता है। दिल्ली पुलिस एक बार फिर सवालों के घेरे में है।

उपद्रव में एक पुलिसकर्मी की मौत हो गई है। मृतक पुलिसकर्मी की पहचान हेड कॉन्स्टेबल रतन लाल के तौर पर हुई है। शाहदरा के डीसीपी अमित शर्मा समेत कई पुलिसकर्मियों के घायल होने की भी खबर है। इस बीच स्थिति को देखते हुए उत्तर-पूर्वी दिल्ली के हिंसा प्रभावित इलाकों में धारा-144 लगा दी गई हैं।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने हेड कॉन्स्टेबल की मौत पर दुख का इजहार किया है। उन्होंने लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की है। केजरीवाल के अलावा उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया, गोपाल राय, पंकज गुप्ता, संजय सिंह आदि ने भी ट्वीट कर लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की है।

इस बीच खबर है कि जाफराबाद और मौजपुर इलाकों में प्रदर्शनकारियों ने दो घरों को आग लगा दी है। एक पेट्रोल पंप में भी आग लगाने की खबर है। इलाके में उपद्रव के हालात के मद्देनजर दिल्ली मेट्रो ने जाफराबाद, मौजपुर-बाबरपुर, गोकुलपुरी, जौहरी एन्क्लेव और शिव विहार स्टेशनों के एंट्री और एग्जिट गेटों को बंद कर दिया है। अब उस रास्ते पर मेट्रो ट्रेनें वेलकम मेट्रो स्टेशन तक ही जाएंगी। दिल्ली में हिंसा पर पुलिस ने बताया है कि मौजपुर, करदमपुरी, चांद बाग और दयालपुर इलाके में हिंसा हुई है।

पुलिस ने लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की है। साथ ही अफवाहों से बचने को भी कहा गया है। पुलिस ने कहा है कि उपद्रवियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। वजीराबाद रोड पर चांदबाग में शराब के ठेके में तोड़फोड़ की भी खबर है। उपद्रवी अंदर से शराब की बोतलें फेंक रहे हैं।

इन इलाकों में सोमवार को लगातार दूसरे दिन सीएए समर्थक और विरोधी समूहों के बीच झड़पें हुईं। प्रदर्शनकारियों ने एक-दूसरे पर पथराव किया। पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को तितर-बितर करने के लिए आंसू गैस के गोले छोड़े हैं। प्रदर्शनकारियों ने इलाके में लगी आग बुझाते समय दमकल की एक गाड़ी को भी नुकसान पहुंचाया है।

सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने पूर्व विधायक और भाजपा नेता कपिल मिश्रा पर दंगा भड़काने का आरोप लगाया है। उन्होंने कपिल मिश्रा को गिरफ्तार किए जाने की मांग उठाई है।

This post was last modified on February 24, 2020 9:16 pm

Share
Published by
Janchowk

Janchowk Official Journalists in Delhi