अनंतनाग में सुरक्षा बलों के साथ एनकाउंटर में तीन उग्रवादी मारे गए

Estimated read time 1 min read

श्रीनगर। भारतीय सुरक्षा बलों ने कल जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग जिले में तीन उग्रवादियों को मार गिराया। एनकाउंटर अनंतनाग जिले के पाजलपोरा इलाके में मंगलवार-बुधवार की रात को शुरू हुआ था। सुरक्षा बलों को यह सूचना जिले की पुलिस ने दी थी।

न्यूज़ 18 पोर्टल के मुताबिक पुलिस की टीम ने सुरक्षा बलों के जवानों के साथ पूरे इलाके को घेर लिया था। उनको उनके छुपे होने के स्थान की पुख्ता जानकारी मिली थी। जवानों ने उस घर को घेर लिया जिसमें उनके छुपे होने की आशंका थी। शुरू में घर के मालिक ने ऐसा कुछ भी होने से इंकार किया। लेकिन सुरक्षा बलों ने उसकी एक नहीं सुनी। लिहाजा कुछ ही समय बाद उग्रवादियों ने फायरिंग शुरू कर दी। फिर सुरक्षा बलों ने पूरी मजबूती से उसका जवाब दिया।

इस एनकाउंटर में पूरा घर धराशाई हो गया। उसके बाद तीनों उग्रवादियों के शवों को दफनाने के लिए उनके घरों को सौंप दिया गया। इनमें बिजबेहरा का रहने वाला नासिर गुलजार चादरू सबसे बड़ा था। उसने पिछले साल सितंबर महीने में ही लश्कर-ए-तोएबा की सदस्यता ली थी। इसके अलावा दो दूसरे उग्रवादियों की पहचान जाहिद अहमद लोन और आकिब अहमद हाजम के रूप में की गयी है।

घटना के बाद इन उग्रवादियों के निकले जनाजों में बड़ी तादाद में लोग शरीक हुए। ये सभी भारत विरोधी नारे लगा रहे थे। पहले लोगों ने नमाज पढ़ी और फिर सभी सुपुर्द-ए-खाक के लिए श्मशान की ओर चल पड़े। आपको बता दें कि श्रीनगर समेत कश्मीर के विभिन्न इलाकों में इस तरह की शहीदी कब्रें बनायी गयी हैं। पुलिस या फिर सुरक्षा बलों के जवानों द्वारा मारे जाने वालों को इन्हीं कब्रिस्तानों में दफनाया जाता है।

(श्रीनगर से शाहिद अहमद खान की रिपोर्ट।)

You May Also Like

More From Author

+ There are no comments

Add yours