Thursday, December 2, 2021

Add News

महिला किसान दिवस : आंचल बना परचम

ज़रूर पढ़े

(आज पूरे देश में महिलाओं का दिन था। उन्होंने न केवल दिल्ली की सीमाओं पर अपने परचम लहराए बल्कि देश के अलग-अलग हिस्सों में उनकी आवाज बुलंद हुई। गलन भरी सर्दी को मात देती आधी जमीन जब सड़कों पर उतरी तो बॉर्डर के अलग-अलग हिस्सों में इंद्रधनुषी छटा बिखर गयी। कहीं भाषण हुआ तो कहीं अनशन और कहीं गीत हुए तो कहीं डांस। अलग-अलग रंग और अलग-अलग रूपों में जो संस्कृति सामने आयी वह अद्भुत थी। उन्हीं में से कुछ को जनचौक की दिल्ली हेड वीना ने अपने मोबाइल के कैमरे में कैद किया। पेश है उनकी कुछ झलकियां-संपादक)

(वीना जनचौक की दिल्ली हेड हैं।)

तत्काल समाचारों के लिए, हमारा जनचौक ऐप इंस्टॉल करें

Latest News

अबूझमाड़ के आदिवासियों का हल्ला बोल! पुलिस कैंप के विरोध में एकजुट हुए ग्रामीण

बस्तर। बस्तर में आदिवासियों ने सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल रखा है। सिलगेर, एड्समेटा के बाद अब नारायणपुर जिले...
जनचौक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें

Janchowk Android App

More Articles Like This

- Advertisement -