Friday, March 1, 2024

बैटल ऑफ बंगाल: प्रचार के अंतिम दिन नंदीग्राम में शाह का रोड शो, ममता ने की रैली

दूसरे चरण के मतदान के लिए आज शाम चुनाव थम गया। सभी 30 सीटों के लिए एक अप्रैल को मत डाला जाएगा। दूसरे चरण में बंगाल की हॉट सीट कही जाने वाली नंदीग्राम में भी वोटिंग है। यहां सीधी लड़ाई मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और कभी उनके करीबी रहे शुभेंदु अधिकारी के बीच है। चुनाव प्रचार के आखिरी दिन दोनों पार्टियों ने जमकर नंदीग्राम में प्रचार किया।

ममता और अमित शाह की रैली

नंदीग्राम में कांटे की टक्कर है। यहां दोनों पार्टियों की साख दांव पर लगी है। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने अपनी सीट भवानीपुर को छोड़कर अपने ही साथी को दगा की सजा देने के लिए नंदीग्राम को चुना। आज दिन भर यहां राजनीतिक सरगर्मी तेज रही। कहीं ममता बनर्जी के काफिले के सामने ‘जय श्री राम’ के नारे लगे तो कहीं अमित शाह के रोड़ शो के दौरान लोगों का हुजूम उमड़ पड़ा। अमित शाह के साथ उनकी गाड़ी में शुभेंदु अधिकारी भी मौजूद थे। यह रोड शो वहीं हुआ जहां ममता बनर्जी के साथ हादसा हुआ था। रोड शो के दौरान गाड़ी पर ‘आसल पोरिवर्तन’ लिखा हुआ बैनर टांगा गया जहां से अमित शाह, अधिकारी के लिए लोगों का समर्थन मांग रहे थे। इस दौरान लोगों के जेहन में यह बात डालने की पूरी कोशिश की गई की बंगाल में परिवर्तन की ज़रूरत है। रोड शो के दौरान जय श्री राम के नारे लगे। गृहमंत्री ने अपने प्रचार के दौरान ममता पर निशाना साधते हुए कहा कि दीदी जहां रुकी हैं वहां से मात्र पांच किलोमीटर की दूसरी पर एक महिला के साथ बलात्कार हुआ। टीएमसी के गुंडों ने एक बुजुर्ग महिला को मार दिया। राज्य में महिलाओं की स्थिति इतनी दयनीय है और दीदी महिला सुरक्षा की बात करती हैं। भाजपा उम्मीदवार के समर्थन में वोट मांगते हुए गृहमंत्री ने लोगों से अपील की कि वे शुभेंदु को प्रचंड मतों से जिताएं।

ममता दीदी का व्हील चेयर वाला शो

ममता बनर्जी ने नंदीग्राम पर फतह पाने के लिए कमर कस ली है। वह लगातार वहां लोगों के बीच प्रचार कर रही हैं। आखिरी दिन वह व्हीलचेयर पर यात्रा पर निकलीं। इस दौरान उन्होंने लोगों से अपील की कि वे शांतिपूर्ण ढंग से वोट दें। अगले 48 घंटे के लिए अपने दिमाग को शांत रखें और टीएमसी को ही वोट दें। भाजपा द्वारा लगाए जा रहे आरोपों पर पलटवार करते हुए दीदी ने कहा कि भाजपा उत्तर-प्रदेश से गुंडे बुलाकर अपनी ही पार्टी की महिला की हत्या करवाती है और आरोप बंगाल पर मढ़ रही है। यही उनका प्लान है। ममता दीदी यहीं नहीं रुकीं उन्होंने कहा कि मैंने नंदीग्राम को इसलिए चुना क्योंकि मुझे यहां के लोगों का आशीर्वाद चाहिए। जनता से अपील करते हुए दीदी ने कहा कि अगर भाजपा वोट के बदले आपको पैसा देती है तो उसे आप अवश्य ले लेना लेकिन वोट टीएमसी को ही देना। यह सारा पैसा आप ही का है। जिसे भाजपा ने चोरी किया है। बाहर से बंगाल में आकर भाजपा के गुंडे हिंसा कर रहे हैं। इस साल राज्य से भाजपा को बोल्ड आउट कर देना है। दीदी अपने भाषण के दौरान वंदे मातरम, जय  बांग्ला के नारे लगाती हुई भी नजर आईं।

मीडिया से नदारद रहा संयुक्त मोर्चा

नंदीग्राम में लड़ाई त्रिकोणीय है। लेकिन लोगों के बीच चर्चा सिर्फ दो की है। हर जगह सिर्फ यह दिखाने की कोशिश की जा रही है कि लड़ाई ममता बनर्जी और शभेंदु अधिकार के बीच है। लेकिन इस लड़ाई में संयुक्त मोर्चा की प्रत्याशी मीनाक्षी मुखर्जी भी मजबूत दावेदार हैं। अगर आंकड़ों की बात करें तो साल 2016 के विधानसभा चुनाव में दूसरी रनर अप पार्टी सीपीआई रही थी। इस बार फिर अपने आप मजबूत करने के लिए वाम की प्रत्याशी मीनाक्षी लगातार गांव-गांव जाकर लोगों से मिल रही हैं। आज जिस वक्त ममता बनर्जी और अमित शाह का रोड़ शो था उसी वक्त चुनाव प्रचार थमने से पहले मीनाक्षी का भी नंदीग्राम में रोड शो था लेकिन इस बात को कहीं नहीं दिखाया गया। क्षेत्र में रोजगार के मुद्दे पर युवाओं के साथ मीनाक्षी बातचीत कर रही हैं। आज चुनाव प्रचार के आखिरी दिन उन्होंने सोशल मीडिया द्वारा नंदीग्राम की जनता से अपने मत के अधिकार का प्रयोग करने की अपील की।

(पश्चिम बंगाल से पूनम मसीह की रिपोर्ट।)

जनचौक से जुड़े

0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments

Latest Updates

Latest

Related Articles