Subscribe for notification

हाथरस मार्च: राहुल और प्रियंका को पुलिस ने हिरासत में लिया, रास्ते में कई बार की गयी अभद्रता

नई दिल्ली। यूपी पुलिस ने हाथरस जा रहे पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी को हिरासत में ले लिया है। उन्हें जीप में बैठाकर कहीं ले जाया जा रहा है। इसके पहले अपना काफिला रोके जाने के बाद कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और महासचिव प्रियंका गांधी पैदल ही हाथरस की तरफ चल दिए थे। उसके बाद बताया जा रहा है कि कार्यकर्ताओं पर पुलिस ने बर्बर लाठीचार्ज किया है।

लेकिन पुलिस उन्हें आगे बढ़ने से रोक रही थी। और जगह-जगह उनके रास्ते में रोड़े अटका रही थी। नहीं मानने पर पुलिस के जवानों ने राहुल गांधी के साथ धक्कामुक्की और अभद्रता शुरू कर दी। जिसमें एक बार राहुल गांधी जमीन पर गिर गए। वीडियो में कई ऐसी तस्वीरें सामने आयी हैं जिसमें एक पुलिसवाला राहुल गांधी की गर्दन पकड़ने की कोशिश कर रहा है। इतिहास में यह अपने तरह की अनोखी घटना है जब किसी राष्ट्रीय नेता के साथ पुलिस इस तरह से अभद्रता से पेश आ रही है। राहुल गांधी एसपीजी प्रोटेक्टी हैं हालांकि उनका यह कवर वापस ले लिया गया है। लेकिन बदले में उसी तरह की निजी सुरक्षा मुहैया करायी गयी। इस पूरे प्रकरण के दौरान उसका लश्कर क्या कर रहा था यह एक बड़ा सवाल बन गया है।

इस पूरे प्रकरण को लेकर पुलिस का अभी तक कोई आधिकारिक बयान नहीं आया है। लेकिन रास्ते में राहुल गांधी जरूर पुलिस से यह बार-बार पूछते देखे जा सकते हैं कि आखिर किस कानून के तहत उन्हें हाथरस जाने से रोका जा रहा है। आखिर में पुलिस ने कोविड का हवाला दिया। और उसके आधार पर यात्रा को रोकने की बात कही। लेकिन फिर भी राहुल गांधी अकेले जाने पर अड़े हुए थे। उनका कहना था कि पीड़िता के परिजनों से मिलना और उन्हें सांत्वना देना आखिर कैसे गुनाह हो सकता है।

बहरहाल प्रियंका गांधी को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है। इसके साथ ही राहुल गांधी को भी उसने हिरासत में ले लिया है। अभी उनको कहां ले जाया जा रहा है इसकी कोई जानकारी नहीं है।

उधर, लखनऊ में मुख्यमंत्री का घेराव करने के जा रहे कांग्रेस के कार्यकर्ताओं लाठीचार्ज किया गया है। और कांग्रेस विधायक दल नेता आराधना मिश्रा, दीपक सिंह, वीरेंद्र चौधरी, मनोज यादव समेत कई नेताओं को गिरफ्तार कर लिया गया है।

राहुल गांधी और प्रियंका गांधी के साथ पुलिस जिस बदतमीजी से पेश आयी है उसको लेकर कार्यकर्ताओं में काफी रोष है।

This post was last modified on October 4, 2020 12:06 pm

Share
Published by
Janchowk

Janchowk Official Journalists in Delhi