Saturday, October 16, 2021

Add News

‘मन की बात’ के जवाब में राहुल ने की ‘अर्थव्यवस्था की बात’, कहा- आपको गुलाम बनाने की हो रही है कोशिश

Janchowkhttps://janchowk.com/
Janchowk Official Journalists in Delhi

ज़रूर पढ़े

(कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कल ही घोषणा की थी कि वह मोदी सरकार की नीतियों पर वीडियो की नई श्रृंखला शुरू करने जा रहे हैं। उन्होंने आज इसकी शुरुआत कर दी है। इसकी पहली कड़ी में उन्होंने देश के अर्थव्यवस्था के मुद्दे को उठाया है। जिसमें उन्होंने कहा है कि बीजेपी सरकार ने देश की असंगठित व्यवस्था पर हमला किया है। उन्होंने सीधे लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि आपको गुलाम बनाने की कोशिश की जा रही है। पेश है उनका पूरा बयान-संपादक)

2008 में जबरदस्त आर्थिक तूफान आया पूरी दुनिया में आया अमेरिका में, जापान में, चाइना में, सब जगह। अमेरिका के बैंक गिर गए, कंपनियां बंद हो गईं, एक के बाद एक कंपनियों की लाइन लग गई बंद होने में, यूरोप के  बैंक गिरे, मगर हिंदुस्तान को कुछ नहीं हुआ।

यूपीए की सरकार थी मैं थोड़ा हैरान हुआ प्रधानमंत्री जी के पास गया और मैंने उनसे पूछा, मनमोहन सिंह जी बताइए आप इन बातों को समझते हैं। पूरी दुनिया में आर्थिक नुकसान हुआ है मगर हिंदुस्तान को कोई असर नहीं हुआ कारण क्या है?

मनमोहन सिंह जी ने कहा राहुल अगर हिंदुस्तान की अर्थव्यवस्था को समझना चाहते हो तो यह समझना होगा कि हिंदुस्तान में दो अर्थव्यवस्था है पहली असंगठित अर्थव्यवस्था और दूसरी संगठित अर्थव्यवस्था। संगठित में बड़ी कंपनियां नाम आप जानते हो, असंगठित व्यवस्था में किसान, मजदूर, छोटे दुकानदार, मिडल साइज कंपनीज। जिस दिन तक हिंदुस्तान का असंगठित सिस्टम मजबूत है उस दिन तक हिंदुस्तान को कोई भी आर्थिक तूफान छू नहीं सकता। 

अब आज के दिन आते हैं पिछले 6 साल से, बीजेपी की सरकार ने असंगठित व्यवस्था पर आक्रमण किया है। 3 बड़े उदाहरण तो मैं आपको अभी दे देता हूं नोटबंदी, गलत जीएसटी और लॉकडाउन।

आप यह मत सोचिए कि लॉकडाउन के पीछे सोच नहीं थी। यह मत सोचिए कि आखिरी मिनट पर लॉक डाउन कर दिया गया। इन तीनों का लक्ष्य हमारी इनफॉर्मल सेक्टर को खत्म करने का है।

प्रधानमंत्री जी को अगर सरकार चलानी है, मीडिया की जरूरत है, मार्केटिंग की जरूरत है, मीडिया और मार्केटिंग 15-20 लोग करते हैं।

इनफॉर्मल सेक्टर में पैसा है लाखों करोड़ों रुपए जिसको यह लोग छू नहीं सकते। किसानों के घर में मजदूरों के पास छोटे बिजनेसेस में दुकानदारों के पास लाखों करोड़ों रुपए हैं। इसको यह लोग तोड़ना चाहते हैं पैसा लेना चाहते हैं।

इसका नतीजा आएगा, नतीजा यह होगा कि हिंदुस्तान रोजगार पैदा नहीं कर पाएगा क्यों? क्योंकि इनफॉर्मल सेक्टर 90% से ज्यादा रोजगार देता है। जिस दिन इनफॉर्मल सेक्टर नष्ट हो गया उस दिन हिंदुस्तान रोजगार नहीं पैदा कर पाएगा।

आप ही इस देश को चलाते हो आप ही इस देश को आगे ले जाते हो और आप ही के खिलाफ साजिश हो रही है। आपको ठगा जा रहा है और आपको गुलाम बनाने की कोशिश की जा रही है|

हमें इस आक्रमण को पहचानना पड़ेगा और पूरे देश को मिलकर इसके खिलाफ लड़ना पड़ेगा।

तत्काल समाचारों के लिए, हमारा जनचौक ऐप इंस्टॉल करें

Latest News

टेनी की बर्खास्तगी: छत्तीसगढ़ में ग्रामीणों ने केंद्रीय मंत्रियों का पुतला फूंका, यूपी में जगह-जगह नजरबंदी

कांकेर/वाराणसी। दशहरा के अवसर पर जहां पूरे देश में रावण का पुतला दहन कर विजय दशमी पर्व मनाया गया।...
जनचौक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें

Janchowk Android App

More Articles Like This

- Advertisement -