Saturday, November 27, 2021

Add News

रविशकंर प्रसाद, हर्षवर्धन, निशंक का इस्तीफा यानि मोदी सरकार ने माना क़ानून, स्वास्थ्य, शिक्षा सब फेल

Janchowkhttps://janchowk.com/
Janchowk Official Journalists in Delhi

ज़रूर पढ़े

क़ानून मंत्री रविशकर प्रसाद, पर्यावरण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर, स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन प्रसाद और शिक्षा मंत्री पोखरियाल निशंक का मोदी मंत्रिमंडल से हटाया जाना इस बात का संदेश है कि मोदी राज-2 में देश में क़ानून व्यवस्था, स्वास्थ्य व्यवस्था, शिक्षा व्यवस्था पूरी तरह से फेल हो चुके हैं। ये हम नहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के उक्त दावे बताते हैं। पिछले तीन चार दिन से तमाम मीडिया में भाजपा प्रवक्ताओं के बयान इस तरह से दिये गये हैं कि प्रधानमंत्री मोदी मंत्रियों के साथ बैठक करके उनके कामकाज की समीक्षा खुद कर रहे हैं। प्रधानमंत्री सभी मंत्रियों के कामकाज का मूल्यांकन भी खुद कर रहे हैं और मंत्रियों से उनके कामकाज का हिसाब किताब ले रहे हैं।

मंत्रियों के परफार्मेंस के आधार पर उनके बारे में फैसला लेने वाले भाजपा नेताओं और प्रवक्ताओं के उक्त बातों की रोशनी में क़ानून मंत्री रवि शंकर प्रसाद, स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन और शिक्षा मंत्री, श्रममंत्री मंत्री संतोष गंगवार का इस्तीफा इस बात की शिनाख्त करता है कि मोदी सराकर ने ये मान लिया है कि इन मंत्रियों और इनके मंत्रालयों का परफार्मेंस (प्रदर्शन) निहायत ही खराब रहा है। यानि मोदी के समीक्षा और मूल्यांकन में क़ानून, स्वास्थ्य, शिक्षा जैसे महत्वपूर्ण व्यवस्था पूर्व मंत्रियों के नेतृत्व में लगभग फेल हो गया है।

गौरतलब है कि 5 जुलाई को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने निवास पर गृहमंत्री अमित शाह और संगठन महामंत्री बीएल संतोष के साथ बैठक की थी।  

14 मंत्रियों की छुट्टी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने दूसरे कार्यकाल के पहले कैबिनेट विस्तार से पहले 14 बड़े मंत्रियों की छुट्टी कर दी है। कोरोना की दूसरी लहर में फैली अव्यवस्था की वजह से स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन पर भी गाज गिरी है। हर्षवर्धन से स्वास्थ्य मंत्रालय छीन लिया गया है। स्वास्थ्य राज्य मंत्री अश्विनी चौबे को भी बाहर का रास्ता दिखा दिया गया है। इस्तीफा देने वाले मंत्रियों में सबसे अधिक चौंकाने वाले नामों में क़ानून व आईटी मंत्री रविशंकर प्रसाद और सूचना व प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर शामिल हैं।

इसके अलावा शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक, श्रम मंत्री संतोष गंगवार सहित 14 मंत्रियों का इस्तीफा लिया जा चुका है। अब तक सामाजिक न्याय मंत्री रहे थावरचंद गहलोत को पहले ही राज्यपाल बनाने की घोषणा की जा चुकी है। केंद्रीय रसायन और उर्वरक मंत्री डीवी सदानंद गौड़ा ने भी इस्तीफा दे दिया है। हरियाणा के अंबाला से चौथी बार के सांसद और सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्य मंत्री रतनलाल कटारिया से भी इस्तीफा ले लिया गया है। पशुपालन, डेयरी और मत्स्य पालन राज्य मंत्री प्रताप चंद्र सारंगी से भी इस्तीफा लिया गया है। खाद्य एवं आपूर्ति राज्य मंत्री राव साहेब दानवे को भी बाहर का रास्ता दिखाया गया है।

केंद्रीय कैबिनेट से शिक्षा राज्य मंत्री संजय धोतरे, महिला और बाल विकास मंत्री देबोश्री चौधरी से भी इस्तीफा लिया गया है। बंगाल से ही आने वाले बाबुल सुप्रियो को भी बाहर का रास्ता दिखा दिया गया है। केंद्रीय पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन राज्य मंत्री बाबुल सुप्रियो ने पश्चिम बंगाल में हाल ही में विधानसभा का चुनाव भी लड़ा था और वह हार गए थे।

 43 नये लोग बनाये गये मंत्रिमंडल का हिस्सा

वहीं सरकार के 2 साल पूरे होने के बाद केंद्रीय मंत्रिमंडल का आज शाम 6 बजे विस्तार करके 43 नेताओं को शामिल किया गया है। जिसमें मध्यप्रदेश में कमलनाथ सरकार गिराने वाले कांग्रेस के विभीषण ज्योतिरादित्य सिंधिया भी शामिल हैं। कैबिनेट विस्तार के मद्देनजर 10 मंत्रियों का प्रमोशन किया गया है जबकि मंत्रिमंडल में 33 नए चेहरों को शामिल करने का फैसला लिया गया है।

इस लिस्ट में कई बड़े नामों को जगह दी गई है। कांग्रेस से आये नारायण तातू राणे, सर्वानंद सोनोवाल, डॉ. वीरेंद्र कुमार, ज्योतिरादित्य सिंधिया,रामचंदर प्रसाद सिंह, अश्विनी वैष्णव, पशुपति कुमार पारस, किरेन रिजिजु, राज कुमार सिंह, हरदीप सिंह पुरी, मनसुख मंडविया समेत कई अन्य नेताओं के नाम इस लिस्ट में शामिल हैं।

मंत्रालय में शामिल किये गये 43 नेताओं की सूची इस प्रकार है

1.नारायण तातू राणे

2.सर्वानंद सोनोवाल

3.डॉ. वीरेंद्र कुमार

4.ज्योतिरादित्य सिंधिया

5.रामचंदर प्रसाद सिंह

6.अश्विनी वैष्णव

7.पशुपति कुमार पारस

8.किरेन रिजिजु

9.राज कुमार सिंह

10.हरदीप सिंह पुरी

11.मनसुख मंडविया

12.भूपेंद्र यादव

13.पुरुषोत्तम रुपाला

14.जी किशन रेड्डी

15.अनुराग सिंह ठाकुर

16.पंकज चौधरी

17.अनुप्रिया सिंह पटेल

18.सत्यपाल सिंह बघेल

19.राजीव चंद्रशेखर

20.शोभा करंदलाजे

21.भानु प्रताप सिंह वर्मा

22.दर्शना विक्रम जरदोश

23.मीनाक्षी लेखी

24.अन्नपूर्णा देवी

25.ए नारायणस्वामी

26.कौशल किशोर

27.अजय भट्ट

28.बीएल वर्मा

29.अजय कुमार

30.देवू सिंह चौहान

31.भगवंत खुबा

32.कपिल मोरेश्वर पाटील

33.प्रतिमा भौमिक

34.सुभाष सरका

35.भागवत किसनराव कराड

36.राजकुमार राजन सिंह

37.विश्वेश्वर टुडू

38.भारती प्रवीन पवार

39.शांतनु सरकार

40.मुंजापारा महेंद्र भाई

41.जॉन बार्ला

42.एल मुरुगन

43.नीतीश प्रमाणिक

तत्काल समाचारों के लिए, हमारा जनचौक ऐप इंस्टॉल करें

Latest News

भारत को बनाया जा रहा है पाब्लो एस्कोबार का कोलंबिया

➤मुंबई में पकड़ी गई 1000 करोड़ रुपये की ड्रग्स, अफगानिस्तान से लाई गई थी हेरोइन (10 अगस्त, 2020) ➤DRI ने...
जनचौक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें

Janchowk Android App

More Articles Like This

- Advertisement -