क्या राजनीति से संन्यास ले रही हैं सोनिया गांधी?

Estimated read time 1 min read

कांग्रेस की पूर्व अध्यक्ष सोनिया गांधी ने इशारों-इशारों में राजनीति छोड़ने की बात कह दी है। कांग्रेस के महाधिवेशन में सोनिया गांधी ने अपने भाषण के दौरान कहा कि भारत जोड़ो यात्रा से उनकी पारी समाप्त हो सकती है। इससे कयास लगाये जा रहे हैं कि शायद सोनिया गांधी अब राजनीति से सन्यास ले लेंगीं।

बता दें कि छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में कांग्रेस का 85वां महाधिवेशन चल रहा है। महाधिवेशन 24 फरवरी से शुरू हुआ था। महाधिवेशन में आज कांग्रेस की पूर्व अध्यक्ष सोनिया गांधी, कांग्रेस के अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे समेत कई बड़े नेताओं ने शिरकत की और अधिवेशन को संबोधित किया।

महाधिवेशन में सोनिया गांधी ने सत्ताधारी पार्टी बीजेपी पर जमकर वार किया। सोनिया गांधी ने कहा कि इस समय पूरा देश और कांग्रेस पार्टी दोनों ही चुनौती भरे समय से गुजर रहे हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि बीजेपी-आरएसएस ने भारत में हर एक संस्थान पर कब्जा कर लिया है और उसे बर्बाद कर दिया है। सोनिया गांधी ने ये भी कह कि बीजेपी अपने कुछ कारोबारी दोस्तों को फायदा पहुंचाने के लिए देश में आर्थिक तबाही मचा रही है।

देश में दलितों, महिलाओं और हर तबके के लोगों के साथ अन्याय हो रहा है। सोनिया गांधी ने कहा कि “साल 2004 और 2009 में हमारी जीत के साथ-साथ मनमोहन सिंह के नेतृत्व ने मुझे व्यक्तिगत संतुष्टि दी। लेकिन मुझे सबसे ज्यादा खुशी इस बात की है कि मेरी पारी भारत जोड़ो यात्रा के साथ समाप्त हुई, जो कांग्रेस के लिए एक महत्वपूर्ण मोड़ था।”

अपने भाषण के दौरान सोनिया गांधी ने राहुल गांधी की जमकर तारीफ की। उन्होंने कहा कि राहुल के नेतृत्व में भारत जोड़ो यात्रा ने बहुत अच्छा काम किया है। सोनिया गांधी ने कहा कि जिस तरह से राहुल ने भारत जोड़ो यात्रा में लोगों के पास पहुंचकर उनकी समस्याओं को सुना है वो काबिल-ए-तारीफ है।

महाधिवेशन के दूसरे दिन कांग्रेस पार्टी ने पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी के प्रति अपना आभार जताया। छत्तीसगढ़ प्रभारी कुमारी शैलजा ने आभार प्रकट किया। इस दौरान पार्टी की तरफ से उनके जीवन पर आधारित एक वीडियो भी दिखाया गय़ा। वीडियो में सोनिया गांधी के राजनीतिक सफर के बारे में बताया गया कि किस तरह सोनिया गांधी ने अपना राजनीतिक करियर शुरु किया और किस तरह उन्होंने पार्टी के अध्यक्ष के रूप में अपनी जिम्मेदारी निभाई।

वीडियो के जरिये पार्टी की तरफ से सोनिया गांधी को सम्मान दिया गया। वीडियो में दिखाया गया कि किस तरह से सोनिया गांधी ने प्रेम, कर्तव्य, त्याग से भरा अपना जीवन जीया है। उन्होंने अपने जीवन में कई तरह की चुनौतियों का डट कर मुकाबला किया। सोनिया गांधी ने दो दशक तक कांग्रेस की कमान बेहतरीन तरीके से संभाली।

सोनिया गांधी ने नामुमकिन को मुमकिन करते हुए लोकसभा चुनाव में दो बार ऐतिहासिक जीत हासिल करवाई। वीडियो में दिखाया गया कि सोनिया गांधी किस तरह कांग्रेस पार्टी के आदर्शों पर चलती रहीं।

पार्टी अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने भी महाधिवेशन को संबोधित करते हुए बीजेपी पर जमकर हमला बोला। खड़गे ने कहा कि बीजेपी अमीरों की पार्टी है। सरकार में बैठे नेताओं का डीएनए ही गरीब विरोधी है। खड़गे ने कहा कि इस समय देश के सामने कई समस्याएं हैं। सबसे बड़ी समस्या बेरोजगारी है। युवाओं के भविष्य को अंधेरे में ढकेला जा रहा है।

इस समय देश सबसे कठिन दौर से गुजर रहा है। देश के युवाओं का रोजगार छिन गया है। देश की संपत्ति को बेचा जा रहा है। गरीबों के अधिकार को कुचला जा रहा है। गरीबों, दलितों और अल्पसंख्यकों की सुनने वाला कोई नहीं है। कांग्रेस पार्टी देश की पीड़ा को समझती है औऱ देश के लिए लड़ रही है।

हम देश में सभी चुनौतियों का सामना करेंगे। भारत जोड़ो यात्रा देश के लिए धूप की तरह थी। हजारों लोगों ने राहुल गांधी से हाथ मिलाया और साबित किया कि कांग्रेस अभी भी उनके दिलों में है। राहुल गांधी ने असंभव को संभव कर दिखाया है।

बता दें कि कांग्रेस का महाधिवेशन शनिवार 26 फरवरी तक चलेगा।

(कुमुद प्रसाद जनचौक में कॉपी एडिटर हैं।)

You May Also Like

More From Author

0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments