Monday, December 5, 2022

यूपी: शिक्षा मंत्री की मौजूदगी में शख्स ने लोगों से हथियार इकट्ठा कर जनसंहार के लिए किया तैयार रहने का आह्वान

Follow us:

ज़रूर पढ़े

यूपी शिक्षा मंत्री की मौजूदगी में एक जागरण मंच से जनसंहार के लिये तैयार रहने और घरों में हथियार जमा करने की बातें कही गई हैं। धर्मेंद्र पांडे ने कुछ समय पहले सिद्धार्थ नगर में कहा था कि जब भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हथियार उठाने का आह्वान करें तो हिंदुओं को जवाब देने के लिए तैयार रहना चाहिए। 

यह कार्यक्रम उत्तर प्रदेश के सिद्धार्थनगर जिले के इटावा क्षेत्र में आयोजित किया गया था। 

भगवा गिरोह के कारकून धर्मेंद्र पांडेय ने यूपी शिक्षा मंत्री की मौजूदगी में हजारों लोगों से अपील करते हुए कहा कि “प्रधानमंत्री ने आपको अपने घरों पर झंडा फहराने, थाली बजाने और दीप जलाने के लिए कहकर आपकी परीक्षा ली है। आप सभी अपने घरों में धारदार दरांती रखें और बहनों को अपने चिमटे में धार लगाकर  तैयार रहना चाहिए। भगवा ज़हर खुरान ने लोगों से आगे कहा कि आपको इसकी आवश्यकता हो सकती है जब मोदी जी हिंदू राष्ट्र का आह्वान करते हैं।

arms

धर्मेंद्र पांडे अपने सभी जागरण प्रदर्शनों में इसी तरह का भड़काऊ भाषण देकर लोगों का ब्रेनवॉश करता आ रहा है। सिर्फ़ इतना ही नहीं जिस कार्यक्रम का ये वीडियो है उस कार्यक्रम में वो इस्लाम व पैगम्बर मोहम्मद साहेब का मजाक़ उड़ाता है और मस्जिदों को पत्थर फेंकने का ट्रेनिंग सेंटर बताता है।

एडीजी जोन कानपुर ने इटावा पुलिस, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, डीजीपी यूपी, आईजी रेंज कानपुर और पीएमओ के संज्ञान में लाने के लिए उन्हें टैग करते हुये लिखा कि “इटावा पुलिस कृपया संज्ञान में लेकर आवश्यक कार्यवाही करे”। जवाब में इटावा पुलिस ने मामले को सिद्धार्थनगर जिले का बताकर पल्ला झाड़ लिया है।

सबसे शर्मनाक बात यह है कि टैग होने के बावजूद दिन भर ट्विटर ट्विटर खेलने वाले प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री ने एक शब्द नहीं कहा।

वहीं सिद्धार्थ नगर पुलिस ने संदर्भित वीडियो का संज्ञान लेते हुए कहा है कि यह वीडियो एक माह पुराना है। सम्पूर्ण वीडियो की जांच की जा रही है। आयोजक व उक्त वक्ता के विरुद्ध नियमानुसार वैधानिक कार्यवाही संचालित की गई है।

(जनचौक के विशेष संवाददाता सुशील मानव की रिपोर्ट।)

तत्काल समाचारों के लिए, हमारा जनचौक ऐप इंस्टॉल करें

Latest News

‘हिस्टीरिया’: जीवन से बतियाती कहानियां!

बचपन में मैंने कुएं में गिरी बाल्टियों को 'झग्गड़' से निकालते देखा है। इसे कुछ कुशल लोग ही निकाल...
जनचौक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें

Janchowk Android App

More Articles Like This

- Advertisement -