Wed. Jun 3rd, 2020

गोंडा में दंगा फैलाने की साजिश नाकाम, बछड़ा काटते रंगे हाथों पकड़े गए दीक्षित बंधु

1 min read
gonda-cow-riot-police-bjp-dixit-muslim-ipc

gonda-cow-riot-police-bjp-dixit-muslim-ipc

गोंडा। उत्तर प्रदेश को सांप्रदायिकता की आग में झोंकने की पूरी सोची-समझी साजिश हो रही है। दशहरे और मोहर्रम के दौरान सूबे के अलग-अलग इलाकों में सांप्रदायिक तनाव पैदा करने की कोशिश इसी का हिस्सा थी। इसकी कलई गोंडा में उस समय खुल गयी जब राम सेवक दीक्षित और मंगल दीक्षित गांव के ही एक शख्स के बछड़े को काटते हुए रंगे हाथों पकड़ लिए गए। पुलिस ने इनके खिलाफ कई कानूनी धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया है।

घटना गोंडा के थाना कटरा बाजार के गांव देवा पसिया की है। एक अक्तूबर रात 12 बजे रामसेवक दीक्षित और मंगल दीक्षित ने गांव के ही गणेश प्रसाद की गाय का बछड़ा खोलकर उसका गला काट दिया। बताया जा रहा है कि एक चश्मदीद हिंदू ने इसे देखकर 100 नंबर पर डायल कर दिया। संयोग से पुलिस वैन उससे कुछ दूर से गुजर रही थी और पुलिस ने रंगे हाथ राम सेवक दीक्षित को खून लगे चाकू और काटे गए बछड़े के साथ गिरफ्तार कर लिया।

Donate to Janchowk
प्रिय पाठक, जनचौक चलता रहे और आपको इसी तरह से खबरें मिलती रहें। इसके लिए आप से आर्थिक मदद की दरकार है। नीचे दी गयी प्रक्रिया के जरिये 100, 200 और 500 से लेकर इच्छा मुताबिक कोई भी राशि देकर इस काम को आप कर सकते हैं-संपादक।

Donate Now

Scan PayTm and Google Pay: +919818660266

पीटीआई के हवाले से आई खबर में बताया गया है कि इन दोनों पर पुलिस ने 295ए, 153ए, 505बी और गोवध निवारण अधिनियम 3/8 के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया है। बताया जा रहा है कि घटना की सूचना मिलते ही दोनों पक्षों के लोग थाने पर इकट्ठा हो गए और उन्होंने आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग शुरू कर दी। घटना को देखते हुए इसके पीछे किसी बड़ी साजिश की आशंका नजर आ रही है। पुलिस और प्रशासन अगर ईमानदारी से जांच करें तो इसके सूत्र कहां से जुड़े हुए हैं इसका पता लगाया जा सकता है। हालांकि पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ रासुका लगाने का भरोसा दिलाया है। ये इलाका बीजेपी नेता ब्रजभूषण शरण सिंह के क्षेत्र में आता है। लिहाजा सांप्रदायिक लिहाज से बेहद संवेदनशील माना जाता है।

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर Janchowk Android App

Leave a Reply