Thursday, February 22, 2024

सीएए-एनआरसी के खिलाफ बिहार में वाम दलों ने दिखाई ताकत

सीएए और एनआरसी को वापस लेने की केंद्रीय मांग के साथ वाम दलों ने भी राष्ट्रव्यापी प्रतिवाद के तहत बिहार बंद  में शिरकत की। राज्य के विभिन्न केंद्रों पर रेल और सड़क जाम की गई। ठंड के बावजूद बड़ी संख्या में लोग सड़क पर उतर आए और मोदी-अमित शाह की तानाशाही के खिलाफ अपनी आवाज बुलंद की।

दरभंगा में भाकपा-माले कार्यकर्ताओं ने सुबह-सुबह जानकी एक्सप्रेस के परिचालन को बाधित कर दिया। माले नेता जंगी यादव के नेतृत्व में लगभग एक घंटे तक जानकी एक्सप्रेस के परिचालन को बाधित रखा गया। दरभंगा के ही लहेरियाराय स्टेशन पर जयनगर पटना कमला गंगा इंटरसिटी एक्सप्रेस को भी रोका गया। नालंदा के इसलामपुर में लोकल ट्रेन के परिचालन को माले कार्यकर्ताओं ने रोक दिया।

जहानाबाद में भभुआ-पटना इंटरसिटी और फाइव पीजी पैसेंजर को हजारों माले और वाम कार्यकर्ताओं ने ट्रैक पर चढ़ कर रोक दिया। रेल जाम करने के बाद पटना-गया मुख्य मार्ग को भी कार्यकर्ताओं ने जाम कर दिया। अधिकांश दुकानें भी बंद रहीं।

बंद का नेतृत्व माले जिला श्रीनिवास शर्मा, रामबलि सिंह यादव समेत सीपीएम और सीपीआई के नेतागण ने किया।

रेलवे के अतिरिक्त राज्य के मुख्य मार्गों को भी प्रभावित किया गया। भाकपा-माले की केंद्रीय कमिटी के सदस्य मनोज मंजिल के नेतृत्व में आरा-सासाराम मुख्य पथ पर सैंकड़ों माले कार्यकर्ताओं ने घंटों जाम लगाए रखा। इसकी वजह से यातायात पूरी तरह से प्रभावित रहा। आरा शहर में भाकपा-माले के वरिष्ठ नेता स्वदेश भट्टाचार्य, जवाहर लाल सिंह, संगीता सिंह और इंसाफ मंच के राज्य सचिव कयामुद्दीन अंसारी के नेतृत्व में शहर में मार्च निकला गया। आरा बस स्टैंड चौक के पास जाम कर कार्यकर्ताओं की सभा हुई।

जगदीशपुर के नयका टोला में सुबह सात बजे से ही बंद समर्थकों ने सड़क जाम कर दी थी। जगदीशपुर में भड़सरा बाजार भी बंद कराया गया। पवना बाजार में भी बंद का व्यापक असर दिखा। वहां रोड को पूरी तरह जाम कर दिया गया। इसाढ़ी बाजार में माले कार्यकर्ताओं ने आरा-मोहनियां रोड जाम कर दिया। अरवल में भाकपा-माले के जिला सचिव महानंद के नेतृत्व में सैंकड़ों वाम समर्थकों ने भगत सिंह चौक को जाम कर दिया। इसकी वजह से अरवल-जहानाबाद और पटना-औरंगाबाद पथ पर यातायात पूरी तरह से ठप्प पड़ गया।

मोतिहारी में माले के जिला सचिव प्रभुदेव यादव के नेतृत्व में बंद समर्थक सड़क पर उतर आए। पश्चिमी चंपारण के मैनाटांड़ में बंद समर्थकों ने शहर के कई मुख्य मार्गों को जाम कर दिया। मधुबनी के रहिका में सैंकड़ों वाम कार्यकर्ता बंद कराने सड़क पर उतर आए। सिवान में माले जिला सचिव नईमुद्दीन असांरी के नेतृत्व में जेपी चौक, स्टेशन चौक चंद्रशेखर चौक (गोपालगंज मोड़) पर माले कार्यकर्ताओं ने सुबह से ही जाम लगा दिया। मैरवां, दरौली और अन्य देहाती इलाकों में भी बंद का व्यापक असर दिखा।

इसके साथ ही कटिहार मुख्य चौराहे को बंद समर्थकों ने जाम कर दिया। भभुआ, रोहताश, गया, नवादा, भागलपुर, गोपालगंज, अररिया आदि तमाम जगहों पर बंद का व्यापक असर दिखा।

जनचौक से जुड़े

0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments

Latest Updates

Latest

Related Articles