Sunday, March 3, 2024

लखीमपुर खीरी में रेप और हत्या के बाद दो नाबालिग दलित बहनों की लाश पेड़ से लटकी मिली

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की लखीमपुर खीरी में गन्ने के खेत में पेड़ से लटकी दो नाबालिग दलित बहनों की लाश मिली है। घटना उसी लखीमपुर खीरी जिले की है जहां पिछले साल सत्ता के पहिये के नीचे किसानों और पत्रकार को कुचलकर मार डाला गया था। यहां के निघासन थाना क्षेत्र के तमोलीन गांव के बाहर गन्ने के खेत में पेड़ से 2 दलित बहनों की लटकती हुई लाश मिली है। एक की उम्र 15 साल और दूसरे की 17 साल बतायी जा रही है। लेकिन इन हालात में भी असंवेदनशील यूपी पुलिस गुस्से और पीड़ा से क्षुब्ध लोगों को नेतागीरी ने करने चेतावनी दे रही है।

दरअसल हत्या कर पेड़ से लटकाए गए दो दलित बहनों के शव मिलने के बाद इलाके के लोगों ने जमकर प्रदर्शन किया और उन्होंने सड़क जाम कर दी। घटना या जाम की जानकारी मिलते ही लखीमपुर खीरी जिले के एसपी संजीव सुमन भारी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे। वो चौराहे पर जाम लगाए लोगों से उलझ गए और कहा कि- नेतागिरी मत करो। हालांकि अपनी बिगड़ी ज़बान को संभालते हुए उन्होंने कहा कि ये धमकी नहीं है, जो आप चाहेंगे वही कार्रवाई होगी, लेकिन नियम कानून को मत छेड़िए।

इससे पब्लिक और भड़क गई। एसपी संजीव सुमन की लोगों के साथ की गयी इस बहस का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है। इस बीच मौके पर आईजी लक्ष्मी सिंह भी पहुंच गईं। और उन्होंने लोगों को समझा बुझाकर शांत कराया। हालात फिलहाल कंट्रोल में है।

6 आरोपी गिरफ्तार

पुलिस ने आज सुबह प्रेस कॉन्फ्रेंस करके जानकारी दिया है कि पेड़ से लटकी मिली दो नाबालिग बहनों की सामूहिक दुष्कर्म-हत्या के मामले में छह संदिग्धों को गिरफ्तार किया गया है। एसपी संजीव सुमन का कहना था कि पीड़ित परिवार की मौजूदगी में पोस्टमार्टम किया जा रहा है। प्रेस कांफ्रेंस में एसपी ने प्राथमिक पूछताछ के आधार पर बताया है कि उन लड़कों से लड़कियों की दोस्ती थी। उन्हें बहला फुसलाकर खेत में ले जाया गया और उनकी इच्छा के विरुद्ध उनके साथ सोहेल और जुनैद ने शारीरिक संबंध बनाये।

संजीव सुमन ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि मामला महिलाओं के ख़िलाफ़ और समाज के एक कमज़ोर वर्ग के ख़िलाफ़ है। हमने पूरी गति और संवेदनशीलता के साथ काम किया। आरोपियों के ख़िलाफ़ IPC की धारा 302, 376 और पोक्सो एक्ट के तहत मामला दर्ज़ किया गया है।

पुलिस के मुताबिक मामलें में एक ज्ञात और तीन अज्ञात लोगों को नामजद किया गया था। पुलिस ने गंभीरता से विवेचना शुरू की। तीनों अज्ञात (जुनैद, सुहैल और हाफिजुर रहमान) आरोपी छोटू जो मृतका का पड़ोसी है, उसके परिचित हैं। छोटू ने ही इन तीनों का लड़कियों से परिचय करवाया था। कल तीनों लड़के गांव में आए थे और लड़कियों को साथ ले जाकर उनकी इच्छा के विरूद्ध जुनैद और सुहैल ने उनके साथ शारीरिक संबंध बनाया। इस बात से नाराज़ होकर उन्होंने दोनों महिलाओं की हत्या कर दी। इसके बाद उन्होंने 2 और लड़कों को बुलाकर उनकी मदद से लड़कियों को पेड़ पर लटका दिया।

एसपी संजीव सुमन ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि इतनी घटना अभी तक हमारे संज्ञान में आई है। अभी विवरण जांच बाकी है। 4 नामज़द के अलावा इसमें मदद करने वाले 2 लोगों को मिलाकर कुल 6 लोग हमारे हिरासत में हैं और उन्हें जेल भेजा जा रहा है।

मां व बहन का बयान

दोनों मृत बहनों की मां ने घटना के बाबत बताया कि वह बुधवार की दोपहर अपनी दो बेटियों मनीषा और पूजा के साथ घर के बाहर बैठी हुई थी। कुछ देर बाद बेटियों को बाहर छोड़कर वो कपड़े डालने के लिए घर के अंदर चली गई और उसी वक्त लालपुर निवासी तीन युवक बाइक पर सवार होकर पहुंचे।

पीड़ित मां के मुताबिक तीन में से दो अलग-अलग लड़कों ने उनकी बेटियों को घसीटा और एक लड़के ने बाइक स्टार्ट की और दोनों को लेकर मौके से फरार हो गए, तीनों लड़के रोज आते थे। मृतका की बहन का दावा है कि कुछ रोज़ पहले ही आरोपी छोटू के खेत में उसकी बकरी मक्के के दो पेड़ चट कर गई थी, इसके बाद छोटू ने धमकी दी थी।

(जनचौक ब्यूरो की रिपोर्ट।)

जनचौक से जुड़े

0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments

Latest Updates

Latest

Related Articles