Saturday, January 22, 2022

Add News

यूपीः साइड के लिए हॉर्न बजाया तो सवर्ण गुंडों ने दलित मजदूर को पीटा

Janchowkhttps://janchowk.com/
Janchowk Official Journalists in Delhi

ज़रूर पढ़े

उत्तर प्रदेश में आज़मगढ़ के जीयनपुर कोतवाली के बालापुर गांव में साइड के लिए गाड़ी का हॉर्न बजाने पर सामंती दबंगों ने दलित मजदूर की बेरहमी से पिटाई कर दी। पुलिस ने रिपोर्ट तो दर्ज कर ली है, लेकिन अभी तक आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं हो सकी है। रिहाई मंच की टीम ने गांव का दौरा किया और आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग की है।

रिहाई मंच की एक टीम पीड़ित के गांव पहुंची। प्रतिनिधिमंडल में एडवोकेट हेमंत, उमेश कुमार, सामाजिक कार्यकर्ता दीपक शामिल रहे। उमेश कुमार से बातचीत में घायल राम प्रवेश पुत्र रामकरन ने बताया कि वह 31 दिसंबर की सुबह लगभग 10 बजे खेत की सिंचाई के लिए डीजल लेने बाजार जा रहा था। रास्ते में कई लोगों के साथ विशाल मिश्रा पुत्र जगन्नाथ मिश्रा रास्ते में खड़ा था। साइड मांगने के लिए रामप्रवेश ने हॉर्न बजाया तो विशाल मिश्रा रामप्रवेश को जातिसूचक गालियां देते हुए मारने-पीटने लगा।

शोर मचाने पर गांव वाले पहुंचे तो मामला किसी तरह से शांत हुआ और रामप्रवेश अपने घर वापस आया। कुछ देर के बाद जब राम प्रवेश और बृजेश कुमार अपने खेत की सिंचाई कर रहे थे, तभी विशाल मिश्रा गोल बना कर लगभग 25 लोगों के साथ वहां पहुंचा और हॉकी, डंडा, चाकू लेकर बृजेश कुमार और रामप्रवेश पर टूट पड़े। उन्होंने दोनों को बुरी तरह से मारा-पीटा है। इसमें बृजेश बुरी तरह से घायल हो गया। सूचना पर जीयनपुर कोतवाली में एफआईआर दर्ज की गई है।

रिहाई मंच से परिवार ने दुख व्यक्त करते हुए कहा कि हम गरीब मजदूर हैं। हमारे लड़को पर जान से मारने की नीयत से अपराधियों ने हमला किया है। अपराधी अभी भी खुला घूम रहे हैं और जान से मारने की धमकियां भी दे रहे हैं। न्याय की जगह हमें कागज का टुकड़ा पकड़ा दिया है पुलिस ने। अभी तक कोई अपराधी गिरफ्तार नहीं हुआ है। आए दिन दलितों पर जानलेवा हमले हो रहे हैं और इस भ्रष्ट सरकार में हम गरीब लोग बिल्कुल सुरक्षित नहीं हैं। हमले को आज कई दिन हो गए, फिर भी कोई अपराधी गिरफ्तार नहीं हुआ। उन्होंने पुलिस पर आरोपियों से मिले होने का भी आरोप लगाया।

गांव वालों ने बताया कि दबंगों की दबंगई अभी भी जारी है। सुबह से लेकर शाम तक मोटरसाइकिल से राउंड कर रहे हैं। आते-जाते गालियां दे रहे हैं। जान से मारने की धमकी दे रहे हैं। पूरा गांव न्याय की मांग कर रहा है। रिहाई मंच के महासचिव राजीव यादव ने कहा कि आए दिन योगी सरकार में दलितों, पिछड़ों, अल्पसंख्यकों, महिलाओं पर अत्याचार हो रहे हैं। इनको रोकने में यूपी पुलिस नाकाम है। इंसाफ के लिए हर स्तर पर लड़ा जाएगा।

तत्काल समाचारों के लिए, हमारा जनचौक ऐप इंस्टॉल करें

Latest News

आल इंडिया पीपुल्स फ्रंट ने घोषित किए विधानसभा प्रत्याशी

लखनऊ। सीतापुर सामान्य से पूर्व एसीएमओ और आइपीएफ के प्रदेश अध्यक्ष डॉ. बी. आर. गौतम व 403 दुद्धी (अनु0...
जनचौक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें

Janchowk Android App

More Articles Like This

- Advertisement -