28.1 C
Delhi
Friday, August 6, 2021

अंधा युग

दुनिया छोड़ जाने के बाद भी सिखाते रहेंगे इब्राहिम अल्काजी

उस समय जबकि नाटक को निचले दर्जे की चीज़ माना जाता था और नाटक करने आए लड़के-लड़कियों को ‘नाचने-गाने वाले’ कहकर दूर हटाया जाता था। उस समय अल्काज़ी आधुनिक हिन्दुस्तानी रंगमंच की नयी फसल पैदा करने की तैयारी में...
- Advertisement -spot_img

Latest News

मनुवादी ढपोरशंखियों के निशाने पर हैं देश का मस्तक ऊंचा करने वाली बेटियां

बुधवार को टोक्यो में भारत की लड़कियां जब जी-जान से अर्जेंटीना की टीम से जूझ रही थीं- शानदार मुकाबले...
- Advertisement -spot_img