Wednesday, April 24, 2024

कारपोरेट हित

मीडिया की प्राथमिकता में नहीं है अब जनसरोकार

आज मीडिया का स्वरूप और प्राथमिकताएं बदल गई हैं। मुख्यधारा के मीडिया में कहीं कोई बड़े मूल्य, आदर्श और जनप्रतिबद्धता अब चिराग लेकर ढूंढने पर भी नहीं दिखेगी। पूंजी, कारपोरेट हित और सत्ता सहयोग उसकी प्रवृत्ति बन चुकी है। इस...

Latest News

स्मृति शेष: सत्यजीत राय- वह जीनियस फ़िल्मकार जिसने पहली फिल्म से इतिहास रचा

सत्यजित राय देश के ऐसे फ़िल्मकार हैं, जिनकी पहली ही फ़िल्म से उन्हें एक दुनियावी शिनाख़्त और बेशुमार शोहरत...