Wednesday, October 27, 2021

Add News

कार्पोरेट

बिहार के किसान क्यों रह गए पंजाब और हरियाणा से पीछे?

अब जब नौ दौर की बातचीत के बाद भी वार्ताकार मंत्रीगण, किसानों को यह नहीं समझा पा रहे हैं कि यह कानून कैसे किसानों के हित में बना है, तो इससे यह बात भी स्पष्ट होती है कि या...

किसान चाहते नहीं, कॉरपोरेट मना कर रहा, फिर क्यों नहीं वापस हो रहा है कृषि कानून!

4 दिसंबर को सरकार और किसानों के बीच बात तो हुई पर कोई निष्कर्ष नहीं निकल पाया। किसान सारे कृषि कानून की वापसी पर अड़े हैं और सरकार इस मांग को न माने जाने की जिद पर। अब अगली...

धन्वंतरि के देश में बेइलाज मरते लोग

आज धन्वन्तरि जयंती है। धन्वन्तरि को आर्युवेंद का प्रादुर्भावक कहा जाता है और दिवोदास, च्यवन, सुश्रुत, चरक को उनकी परंपरा का वाहक माना जाता है, लेकिन मुझे लगता है चूंकि उन्होंने आयुर्वेद के बाबत लिखा था, इसलिए उन्हें प्रादुर्भावक...

कृषि कानूनों के खिलाफ देश भर के किसान उतरे सड़कों पर, कृषि मंत्रालय के सामने भी हुआ प्रदर्शन

केंद्र सरकार से अलोकतांत्रिक तरीके से पास किए गए तीनों किसान मुखालिफ कानूनों का विरोध जारी है। आज बुधवार को देश भर में किसानों ने ‘न्यूनतम समर्थन मूल्य अधिकार दिवस’ मनाया। इस दौरान किसानों और आदिवासियों ने कॉरपोरेट परस्त...

कारपोरेट पर करम और छोटे कर्जदारों पर जुल्म, कर्ज मुक्ति दिवस पर देश भर में लाखों महिलाओं का प्रदर्शन

कर्ज मुक्ति दिवस के तहत पूरे देश में आज गुरुवार को लाखों महिलाएं सड़कों पर उतरीं। उन्होंने आवाज बुलंद की कि सरकार देश के खजाने का पैसा पूंजीपतियों पर लुटाना बंद कर गरीब महिलाओं की मदद करे। ऐपवा ने...

कॉरपोरेट लूट और निजीकरण के खिलाफ किसानों-मजदूरों का देश भर में प्रदर्शन

देश के तमाम हिस्सों में किसान, मजदूर और कर्मचारी देश बचाने के लिए सड़कों पर उतरे। किसान-मजदूर विरोधी कानून, देश को कार्पोरेट के हवाले करने और देश की कंपनियों को बेचने के खिलाफ नौ अगस्त का दिन ‘देश बचाव...

खाकी की होगी सत्ता और देश पर चलेगा कार्पोरेट लूट का राज

(1)पुलिसकर्मी अपने कार्यों, शक्तियों और कर्तव्यों का उपयोग सामान्य जनता और मौजूदा सरकार के निष्पक्ष सेवक के रूप में करेंगे.... किसी भी पुलिसकर्मी को,  उसके कार्यों या शक्तियों, या पुलिस संसाधनों का उपयोग करते वक्त, किसी भी राजनीतिक पार्टी...

तीन अध्यादेशों से किसानों को कार्पोरेट को गिरवी रखने की तैयारी, नौ अगस्त को 25 संगठन होंगे सड़कों पर

एआईकेएससीसी के वर्किंग ग्रुप के सदस्य और जय किसान आंदोलन के संस्थापक योगेन्द्र यादव ने कहा है कि केंद्र सरकार कोरोना काल में तीन किसान विरोधी अध्यादेश लाई है। इनका असली नाम जमाखोरी चालू करो कानून, मंडी खत्म करो...

लॉक डॉउन खत्म करना एक बड़ी चुनौती

सारा विश्व कोरोना महामारी की भयंकर चपेट में है। जिंदगी और मौत की सबसे कठिन लड़ाई लड़ी जा रही है। विश्व की सारी सरकारें अपने तमाम संसाधनों के साथ इस भयंकर महामारी से मुकाबला करने में पूरी ताकत से...
- Advertisement -spot_img

Latest News

हाय रे, देश तुम कब सुधरोगे!

आज़ादी के 74 साल बाद भी अंग्रेजों द्वारा डाली गई फूट की राजनीति का बीज हमारे भीतर अंखुआता -अंकुरित...
- Advertisement -spot_img