Friday, October 22, 2021

Add News

केंद्र सरकार

‘द लैंसेट’ ने कहा- कोरोना आपदा के लिए मोदी सरकार जिम्मेदार

दुनिया की प्रतिष्ठित मेडिकल पत्रिका 'द लैंसेट' ने 8 मई 2021 के अपने संपादकीय में भारत में कोविड-19 से निपटने में मोदी सरकार के रुख, तौर-तरीकों, लापरवाहियों और कुप्रबंधन की तीखी आलोचना की है और कहा है कि सरकार...

भाकपा माले ने केंद्र सरकार को बताया आदमखोर, कहा- मोदी-शाह छोड़ दें गद्दी

भाकपा-माले की राज्य कमेटी की एक दिवसीय वर्चुअल बैठक हुई। बैठक में आजादी के बाद के अब तक की सबसे बड़ी महामारी, जिसमें सरकारों को युद्ध स्तर पर उतरकर लोगों की जिंदगी बचाने के काम को सर्वोच्च प्राथमिकता देनी...

15 दिन में चार एंटीवायरल दवाइयों को आपातकालीन मंजूरी!

देश में पिछले 15 दिन में चार एंटीवायरल दवाइयों 2-डीऑक्सी-डी-ग्लूकोज (2-डीजी), क्लेवीरा, वीराफिन व बैरिसिटनिब को आपातकालीन इस्तेमाल की मंजूरी दी गयी है। गौरतलब है कि कोरोना मरीजों के इलाज के लिए प्रयुक्त की जा रही मौजूदा दो एंटीवायरल...

कोरोना की दूसरी लहर, विशेषज्ञों की राय और आपदा कुप्रबंधन

किसी जमाने में जब अदालतें न्यायिक निर्णयों के बजाय कार्यपालिका से जुड़े मामलों में दखल देने लगती थीं तो इसे न्यायिक सक्रियता का दौर कहा जाता था और इसकी आलोचना भी होती थी और सराहना भी। आलोचना इसलिये कि...

राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग ने कहा- देश में सभी को मुफ्त लगे कोरोना का टीका

लखनऊ। राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग ने कोविड 19 की दूसरी लहर के मद्देनजर स्वास्थ्य अधिकार के संदर्भ में दूसरी एडवाइजरी जारी की है। आयोग ने महामारी का मानवाधिकारों पर प्रभाव और भविष्य के परिणामों का आकलन करने के लिए विशेषज्ञों...

आपराधिक लापरवाही के लिए, अदालतें सेफ्टी वाल्व बनीं! यूपी चुनाव को लेकर नैरेटिव सेट करने में लगे अहम लोग

बात थोड़ा लंबी है... इस बात के कई आयाम हैं। फिर भी बताता हूं। ये कथित सिस्टम फेल होने और पाँच राज्यों के चुनाव नतीजे आने के बाद की बात है। देश के कुछ जाने-माने पत्रकारों और प्रभावशाली लोगों...

यह सिस्टम हमारे लिए फेल हुआ है, उनके लिए नहीं

पिछले कुछ दिनों से सोशल मीडिया पर इस बात को लेकर हाहाकार मचा हुआ है कि हमारा सिस्टम फेल हो गया है, लेकिन क्या हमने यह सोचा है कि यह सिस्टम किसके लिए फेल हुआ है? आजादी के बाद...

…तो ऑक्सीजन संकट पर शुतुरमुर्ग की तरह ज़मीन में मुंह छुपा रही है केंद्र सरकार!

तो वास्तव में केंद्र में पदारूढ़ मोदी सरकार राष्ट्रीय बेशर्म की सरकार बनकर रह गयी है। ऐसा हम नहीं कह रहे हैं बल्कि कोविड-19 मरीजों के उपचार के लिए दिल्ली को ऑक्सीजन की आपूर्ति को लेकर दिल्ली हाई कोर्ट...

लोगों की जान की कीमत पर भी महंगी वैक्सीन और सरकार की रहस्यमयी खामोशी

सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इण्डिया, जो भारत की दो में से एक कोविड के टीके बनाने वाली कम्पनी है, के मालिक अदार पूनावाला ने एक ट्वीट कर कहा है कि राज्य सरकारों को टीके बेचने की दर 400 रुपये प्रति...

कोरोना की दूसरी लहर के घातक दुष्परिणाम की जिम्मेदारी कौन लेगा सरकार!

अब जब सुप्रीम कोर्ट सहित अन्य हाई कोर्ट में इस आपदा पर हंगामा मचा तो अदालत में सरकार ने कहा कि उसे दूसरी लहर की भयावहता का अंदाज़ा नहीं था। पर द प्रिंट ने इस पर एक विस्तार से...
- Advertisement -spot_img

Latest News

सुप्रीम कोर्ट के मौजूदा जज की अध्यक्षता में हो निहंग हत्याकांड की जांच: एसकेएम

सिंघु मोर्चा पर आज एसकेएम की बैठक सम्पन्न हुई। इस बैठक में एसकेएम ने एक बार फिर सिंघु मोर्चा...
- Advertisement -spot_img