Saturday, December 4, 2021

Add News

बेरोजगारी

मनमोहन सिंह ने केंद्र को लिखा पत्र; वैक्सीनेशन की रफ्तार तेज करने का दिया सुझाव

पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने कोरोना संकट पर प्रभावी कार्रवाई के लिए केंद्र सरकार को पत्र लिखा है। इसमें उन्होंने सरकार को कुछ अहम सुझाव दिए हैं। इसमें खासतौर से वैक्सीनेशन को बढ़ाने की बात कही गई है। पेश...

रोजगार मांग रहे नौजवानों को मिल रही है जेल, विपक्ष ने भाजपा सरकार पर उठाए सवाल

आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रेडियो पर 74वीं बार अपने मन की बात करने आये। उनके रेडियो पर आने से पहले पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने उन्हें किसान और रोज़गार के मुद्दे पर बात करने की चुनौती देते हुए...

तीन कृषि कानूनः मेक्सिको से सबक ले भारत, कॉरपोरेट ने तबाह की खेती-किसानी और बढ़ गई बेरोजगारी

(शेष भाग...)मई 2018 में अमरीका ने दावा किया कि भारत 10 प्रतिशत की सब्सिडी की सीमा का उल्लंघन कर रहा है। बदनीयती से की गई इस गणना में आधार वर्ष 1986-88 की डालर कीमतों को उसी वर्ष की दर...

यूथ कांग्रेस ने किया संसद का घेराव, कहा- युवाओं को झूठ-जुमलों की नींद से उठाने का समय

बेरोजगारी, महंगाई और कृषि क़ानूनों के खिलाफ़ इंडियन यूथ कांग्रेस ने आज संसद घेराव कार्यक्रम आयोजित किया। इस कार्यक्रम में तमाम राज्यों के यूथ कांग्रेस अध्यक्ष, उत्तराखंड, छत्तीसगढ़, राजस्थान, पंजाब, पश्चिम बंगाल, ओडिशा, हिमाचल प्रदेश, त्रिपुरा, बिहार, दिल्ली, मध्य...

मोदी सरकार की तर्ज पर बिहार में तानाशाही कायम करना चाहते हैं नीतीश: दीपंकर भट्टाचार्य

पटना। भाकपा-माले के महासचिव कॉ. दीपंकर भट्टाचार्य ने कहा है कि मोदी की तानाशाही की तर्ज पर बिहार में तानाशाही का नीतीश मॉडल विकसित हो रहा है। मोदी-योगी सरकार के नक्शे कदम पर चलते हुए कुछ दिन पहले ही...

राजनीति की धमनियों में है युवा खून की दरकार

यदि कोई बीमार है, पचास तरह की बीमारियां हैं, जुकाम से लेकर सारे शरीर में दर्द, दिल भी खराब, जिगर भी कमजोर, किडनी भी ठीक काम नहीं कर रही, तो क्या करेंगे? जाहिर है डॉक्टर ही देखेगा। डॉक्टर अकेले...

किसानों का यह संघर्ष ही भारतीय अर्थव्यवस्था के तमाम संकटों की कुंजी है

भारत में ग्रामीण अर्थव्यवस्था के साथ पूंजीवाद का संबंध उपनिवेश और औपनिवेशिक शक्ति के बीच के संबंध का रूप ले चुका है। पिछले तमाम वर्षों में गांवों में निवेश और गांवों से धन की निकासी के बीच भारी फ़र्क़...

मौजूदा लेबर कोड मजदूरों की गुलामी का दस्तावेज

जमाखोरी, न्यूनतम समर्थन मूल्य के खात्मे, ठेका खेती के जरिए जमीनों पर कब्जा करने और देश की खाद्य सुरक्षा को खतरे में डालकर खेती किसानी को देशी-विदेशी कॉरपोरेट घरानों के हवाले करने की आरएसएस-भाजपा की मोदी सरकार की कोशिश...

किसान आंदोलन, गोदी मीडिया और प्रधानमंत्री के आमोद-प्रमोद में खलल

एक ज़माना था, जब हमारे देश में खेती को सब से उत्तम कार्य माना जाता था। महाकवि घाघ की एक मशहूर कहावत है-  "उत्तम खेती, मध्यम बान, निषिद्ध चाकरी, भीख निदान।" यानी खेती सब से अच्छा कार्य है। व्यापार...

भट्ठों की बंधुआ जिंदगी से मिली 16 मजदूरों को निजात

ईंट भट्ठे, बंधुआ मजदूरी के पर्याय बन गए हैं। कितना अजीब लगता है सुनने में कि आज जब सूचना और तकनीकी बच्चे-बच्चे की पहुंच में है, ऐसे समय में एक-दो नहीं, दर्जनों लोगों को कुछ लोग बंधुआ बनाकर काम...
- Advertisement -spot_img

Latest News

एजेंडे पर मथुरा-काशी यानि पश्चिमांचल से लेकर पूर्वांचल तक बीजेपी को नफरत का सहारा

दिसंबर के दूसरे सप्ताह में प्रधानमंत्री व भाजपा के चुनावी चेहरे नरेंद्र मोदी काशी कॉरीडोर का उद्घाटन करेंगे। उत्तर...
- Advertisement -spot_img