ज़रूरी ख़बर

कर्नाटक में ऑक्सीजन की कमी से 24 कोविड मरीजों की मौत

ऑक्सीजन की कमी से देश में अब तक कई मौतें हो चुकी हैं, और यह सिलसिला अब भी जारी है। ताजा मामला कर्नाटक के चामराजनगर का है, जहां चामराज जिला अस्पताल में ऑक्सीजन की कमी के कारण कोविड-19 से जूझ रहे 24 मरीजों ने दम तोड़ दिया। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, इस अस्पताल में बेल्लोर से ऑक्सीजन पहुंचना था, लेकिन उसके पहुंचने में देर होने की वजह से 24 मरीजों की तड़प-तड़प कर मौत हो गयी। बाद में मैसूर से चामराजनगर के लिए ढाई सौ ऑक्सीजन सिलेंडर भेजे गए, लेकिन तब तक कई मरीज जान गंवा चुके थे।

घटना बीती रात की है। ऑक्सीजन की कमी से जान गंवाने वालों में शामिल अधिकतर मरीज वेंटिलेटर पर थे। ऑक्सीजन सप्लाई खत्म होने के बाद वहां हाहाकार मच गया और मरीज तड़पने लगे। कुछ ही देर बाद ऑक्सीजन की कमी से मरीजों की मौत हो गई, जिससे अस्पताल में हड़कंप मच गया।

जिला प्रभारी मंत्री सुरेश कुमार ने कहा, “पिछले 24 घंटों में ऑक्सीजन की कमी और अन्य कारणों से चामराजनगर जिला अस्पताल में COVID-19 रोगियों सहित 24 रोगियों की मृत्यु हो गई। हम डेथ ऑडिट रिपोर्ट का इंतजार कर रहे हैं।”

चामराजनगर जिला प्रभारी मंत्री एस सुरेश कुमार ने जिला अस्पताल में 24 मरीजों की मौत के मामले में जांच के आदेश देते हुए कहा, “जो लोग अस्पताल में ऑक्सीजन की आपूर्ति की कमी के लिए जिम्मेदार हैं उनके ख़िलाफ़ सख्त कार्रवाई की जाएगी।”

कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येदुरप्पा ने कहा, “इस घटना को लेकर चामराजनगर के जिला कलेक्टर से बात की है और कल एक आपातकालीन कैबिनेट बैठक बुलायी है।”

हादसे के बाद एक मीडिया रिपोर्ट में कर्नाटक के स्वास्थ्य मंत्री डॉ. के सुधाकर ने कहा कि चामराजनगर की घटना दुर्भाग्यपूर्ण है, मैंने मुख्यमंत्री से चर्चा की है, मैं मैसूर, मंड्या और चामराजनगर जा रहा हूं, वहां जाकर देखूंगा कि आखिरी मौतें कैसे हुईं और जो भी समस्या है, उसका निराकरण करने की पूरी कोशिश करूंगा। गौरतलब है कर्नाटक में भाजपा की सरकार है और वीएस येदुरप्पा मुख्यमंत्री हैं।

This post was last modified on May 3, 2021 2:17 pm

Share
Published by