Tuesday, December 7, 2021

Add News

यूपी में ‘आप’ के बाद अब अपना दल की यात्रा पर भी पाबंदी

Janchowkhttps://janchowk.com/
Janchowk Official Journalists in Delhi

ज़रूर पढ़े

दो दिन पहले आम आदमी पार्टी की तिरंगा संकल्प यात्रा पर रोक के बाद आज शुक्रवार को वाराणसी में अपना दल की अधिकार यात्रा पर पाबंदी लगा दी गई है। प्रशासन की अनुमति न मिलने का हवाला देकर यू पी पुलिस के सिपाही अपना दल की राष्ट्रीय अध्यक्ष कृष्णा पटेल के घर के बाहर तैनात हैं।

गौरतलब है कि यूपी चुनाव को लेकर आज वाराणसी अपना दल की नेता पल्लवी पटेल के नेतृत्व में अधिकार यात्रा निकाली जानी थी। और आज दोपहर 12 बजे सारनाथ से शुरू होकर 1200 किलोमीटर की ट्रैक्टर यात्रा के बाद 30 अक्टूबर को मिर्जापुर में इसका समापन होना है। लेकिन अपना दल की सारनाथ से शुरु होने वाली अधिकार यात्रा से पहले ही शुक्रवार सुबह पार्टी की अध्यक्ष कृष्णा पटेल सहित अन्य नेताओं के घर के बाहर फोर्स तैनात कर दी गई है। अपना दल के तमाम नेता और पदाधिकारियों को नज़रबंद किया गया है।

इससे अपना दल के कार्यकर्ताओं में आक्रोश है। बता दें कि अपना दल के इस कार्यक्रम को वाराणसी पुलिस-प्रशासन से अनुमति नहीं मिली थी। इससे पहले कल बृहस्पतिवार की रात में पुलिस ने लहरतारा बौलिया के मानिक नगर कॉलोनी में पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष कृष्णा पटेल व नेता डॉ. पल्लवी पटेल के आवास पर रात में दबिश दी। हालांकि पल्लवी पटेल मौके पर नहीं मिलीं। कल रात पुलिस ने अपना दल के बड़े पदाधिकारियों और कई कार्यकर्ताओं के घर भी दबिश डाली थी।

अपना दल के प्रदेश महासचिव और अन्य कार्यकर्ताओं के घरों के बाहर पुलिस का पहरा बैठाकर उन्हें उनके घरों में ही नज़रबंद कर दिया गया है। उत्तर प्रदेश पुलिस के मुताबिक सारनाथ स्थित महाबोधि इंटर कॉलेज के पास शुक्रवार सुबह 10 बजे ट्रैक्टर यात्रा कार्यक्रम को अनुमति नहीं मिलने के कारण यह कार्रवाई की गई।

कृष्णा पटेल को माणिक नगर लहरतारा स्थित आवास पर भारी पुलिस बल तैनात कर दी गई है। अपना दल के प्रदेश महासचिव गगन प्रकाश यादव ने प्रशासन के रवैये पर सवाल उठाते हुये कहा है कि राष्ट्रीय अध्यक्ष और पल्लवी पटेल सामाजिक न्याय, रोजगार और किसानों के अधिकारों के सवाल पर विभिन्न जनपदों में लगभग 1200 किलोमीटर ट्रैक्टर रैली निकालेंगी। जिसके माध्यम से विभिन्न जनपद के गांव-गांव तक अधिकार यात्रा का संदेश पहुंचाया जाएगा।

शुक्रवार को सारनाथ वाराणसी से शुरू होकर यह यात्रा 23 को जौनपुर 24 को प्रतापगढ़ 25 को प्रयागराज गंगा पार 26 को कौशांबी 27 को फतेहपुर 28 को बांदा 29 को प्रयागराज यमुना पर होते हुए 30 को मिर्जापुर पहुंचेगी। पल्लवी पटेल ने कहा कि रैली की तैयारी की जा रही है और इसे निकाले जाने का कार्यक्रम था।

पल्लवी पटेल ने बहन अनुप्रिया पटेल पर साधा निशाना

सारनाथ से पिछड़ों के लिए अधिकार यात्रा निकालने से ठीक पहले यूपी प्रशासन द्वारा छापेमारी और फिर पुलिस के पहरे में नज़रबंद कर दी गयी अपना दल की महासचिव पल्लवी पटेल ने अपनी बहन और अपना दल (एस) की अध्यक्ष केंद्रीय मंत्री अनुप्रिया पटेल पर निशाना साधा है।
उन्होंने कहा है कि पिछड़ों शोषित और वंचितों के लिए अधिकार यात्रा शुरू हो चुकी है। संघर्ष प्रारंभ हो गया है सत्ता में बैठे लोग इस संघर्ष को विफल करने के लिए पुलिस का सहारा ले रहे हैं लेकिन हमारे हौसले में कोई कमी नहीं आई है हम यह लड़ाई लड़ेंगे भी और जीतेंगे भी।

अपना दल समर्थकों ने आरोप लगाया है कि यह सब कार्रवाई अनुप्रिया पटेल के इशारे पर की जा रही है। दरअसल कृष्णा पटेल और पल्लवी पटेल जिस तरह से पिछड़ों के मुद्दे पर ज़मीनी संघर्ष कर रही हैं उसे अनुप्रिया पटेल को अपनी ज़मीन खिसकती नज़र आ रही है वह नहीं चाहतीं कि उनकी मां व छोटी बहन इस तरह से लोगों से जुड़ें।

इससे पहले 18 अक्टूबर को अपना दल संस्थापक व पिता सोने लाल पटेल की पुण्यतिथि पर अपना दल की राष्ट्रीय महासचिव पल्लवी पटेल ने अपरोक्ष रूप से भारतीय जनता पार्टी के सहयोगी के रुप में अनुप्रिया पटेल पर निशाना साधा था। उस अवसर पर उन्होंने अपनी मां कृष्णा पटेल के साथ स्वर्गीय पिता डॉक्टर सोनेलाल पटेल की तस्वीर पोस्ट करते हुए लिखा था कि “डॉक्टर साहब हम शर्मिंदा हैं, आप के कातिल जिंदा है”।

तत्काल समाचारों के लिए, हमारा जनचौक ऐप इंस्टॉल करें

Latest News

झारखंड में उड़ रही हैं खाद्य सुरक्षा कानून की धज्जियां, गढ़वा में 12 हजार लाभुकों को नहीं मिला अक्तूबर का राशन

1 एवं 2 दिसम्बर 2021 को भोजन का अधिकार अभियान (झारखण्ड) द्वारा गढ़वा जिले के बड़गढ़ प्रखंड के 3...
जनचौक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें

Janchowk Android App

More Articles Like This

- Advertisement -