Subscribe for notification

एम्स के ट्रौमा सेंटर पर भी हो गया था बीजेपी-परिषद के लोगों का कब्जा

नई दिल्ली। बठिंडा की एक नर्स जो इस वक्त एम्स की सर्विस में हैं उन्होंने बताया कि पूरा इमरजेंसी वार्ड भाजपा के कब्जे में कर दिया गया था। भाजपा के लोग अंदर जा रहे थे लेकिन बाकी संगठनों के लोगों को रोका जा रहा था। एबीवीपी के लोग गुंडों की तरह तैनात थे और खुलकर नारेबाजी कर रहे थे। मीनाक्षी रेखी, मनोज तिवारी और विजय गोयल अंदर गए लेकिन प्रियंका गांधी को इन्हीं लोगों ने रोक दिया। इमरजेंसी वार्ड में ऐसी नारेबाजी हुई कि अंदर मरीज बहुत ज्यादा परेशान होने लगे। नर्स को भी बकायदा सांसद लेखी ने धमकाया और उस वक्त उनके साथ सांसद विजय गोयल भी थे।

नर्स का कहना था कि जब कहा गया कि यह इमरजेंसी वार्ड है और आप इस तरह हंगामा ना कीजिए तो उन्होंने कहा कि हम मरीजों से बात करने के लिए आए हैं। नर्स के मुताबिक वह लगभग हमलावर थे और कोई भी तर्क सुनना नहीं चाहते थे। दिल्ली पुलिस के कई अधिकारी भी वहां मौजूद थे। सभी अधिकारी भाजपा नेताओं की मौजूदगी को बखूबी जानते थे। नर्स के मुताबिक दिल्ली पुलिस के एक अधिकारी ने लगभग धमकी नुमा अंदाज में कहा कि भाजपा से कोई भी आए उसे मिलने दिया जाए और कांग्रेस से कोई आए तो कतई नहीं।

(वरिष्ठ पत्रकार अमरीक सिंह की रिपोर्ट।)

This post was last modified on January 6, 2020 7:26 pm

Share
Published by