Subscribe for notification

पंजाब: प्रवासी मजदूरों को ले जा रही बस पलटी, 10 जख्मी

पंजाब के जिला लुधियाना के खन्ना में बस पलटने से 10 प्रवासी मजदूर गंभीर रूप से जख्मी हो गए। यह हादसा जीटी रोड पर गांव लिबड़ा स्थित राधा स्वामी सत्संग घर के नजदीक मंगलवार सुबह हुआ। बस में 50 प्रवासी मजदूर सवार थे और जम्मू से यूपी और बिहार जा रहे थे। बस के खन्ना के लिबड़ा पहुंचने पर चालक को नींद आ गई और बस का संतुलन अचानक बिगड़ गया और वह पलट गई। कर्फ्यू के चलते घायलों को काफी देर बाद चिकित्सीय सहायता मुहैया हुई और उन्हें अस्पताल दाखिल कराया गया। इस दुर्घटना के फौरन बाद बस के ड्राइवर और कंडक्टर मौके से फरार हो गए। जम्मू के नंबर वाली यह एक टूरिस्ट बस थी। प्राथमिक जांच में सामने आया है कि इसे बगैर किसी परमिट नाजायज रूप से ले जाया जा रहा था। 

यात्रियों के अनुसार उन्हें एक-एक हजार रुपए लेकर जम्मू के लखनपुर बॉर्डर से बस में बिठाया गया था। पुलिस मामले की जांच कर रही है कि यह बस रातों-रात किस तरह जारी कर्फ्यू और लॉकडाउन की खुली अवहेलना करते हुए जा रही थी। पुलिस सूत्रों के मुताबिक उक्त बस में सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ाईं जा रही थीं। सवार प्रवासी मजदूरों के मुताबिक इस टूरिस्ट बस ने पहले यात्रियों को उत्तर प्रदेश छोड़ना था और फिर बिहार वालों को वहां छोड़कर आने का करार किया गया था। जबकि अब इस तरह के वाहनों को किसी भी राज्य की सीमा लांघने नहीं दी जा रही। खन्ना में किसी श्रमिक के पास कर्फ्यू पास नहीं मिला और न जरूरी कागजात। गौरतलब है कि घर वापस जाने वालों के लिए विशेष रेलगाड़ियों के इंतजाम किए गए हैं और इसके लिए पंजीकरण कराना अनिवार्य है।

कुछ दिन पहले तक ट्रकों और अन्य वाहनों में ढोकर प्रवासी मजदूरों को उत्तर प्रदेश, बिहार और झारखंड छोड़ने का अवैध धंधा जोरों पर था। इस बाबत ‘जनचौक’ ने खास खोज-खबर दी थी और राज्य पुलिस-प्रशासन ने इसका संज्ञान भी लिया था। तब के बाद यह पहला मामला है।

(जालंधर से वरिष्ठ पत्रकार अमरीक सिंह की रिपोर्ट।)

This post was last modified on May 13, 2020 8:39 am

Share
Published by