Subscribe for notification

झुग्गी तोड़ने के फैसले के खिलाफ एकजुट हुए लोग, वजीरपुर में माले के नेतृत्व में प्रदर्शन

अपना घर और बस्ती उजाड़ने के खिलाफ अब झुग्गी-झोपड़ी वाले भी एकजुट होने लगे हैं। सुप्रीम कोर्ट के झुग्गी तोड़ने के फैसले से असहमति जताते हुए नई दिल्ली के वजीरपुर औद्योगिक क्षेत्र में रहने वाले झुग्गी निवासियों ने प्रदर्शन किया। इनमें से ज्यादातर लोग रेल पटरियों के पास बसी झुग्गियों में रहते हैं और वजीरपुर समेत आसपास के औद्योगिक क्षेत्रों में काम करते हैं। प्रदर्शन के दौरान इन मजदूरों ने ‘झुग्गी उजाड़ने’ के फैसले के खिलाफ गुस्से का इजहार किया।

प्रदर्शन में मौजूद वजीरपुर झुग्गी निवासी शकुंतला देवी ने कहा, “हम किसी भी सूरत में अपना घर नहीं छोड़ेंगे। सरकार ने हमसे झुग्गी के पास मकान का वादा किया था। आज जब चारों तरफ कोरोना और लॉकडाउन के चलते हमारा रोज़गार जा चुका है, अब हमें ये बताया जा रहा है कि हमारी झुग्गी भी तोड़ दी जाएगी।”

झुग्गी में ही रहने वाले अजय कुमार ने प्रदर्शन के दौरान बताया, “चुनाव के वक़्त भाजपा के लोगों ने जहां झुग्गी वहां मकान की बात कही थी। आज जब चुनाव ख़त्म हो गए हैं तो हम मोदी से पूछना चाहते हैं कि हमारे मकान कहां हैं?”

भाकपा माले राज्य सचिव रवि राय ने प्रदर्शन में मौजूद लोगों को संबोधित करते हुए कहा, “ये बहुत शर्म की बात है कि रेल मंत्रालय सीधे तौर पर इस तरह के जनविरोधी फैसले में शामिल है। हम दिल्ली के विभिन्न इलाकों में इस फैसले से प्रभावित लोगों के बीच गए हैं, सरकार को इन लोगों के रहने की समुचित व्यवस्था करनी होगी। जोर-ज़बरदस्ती करके झुग्गी गिराने के खिलाफ जनता हर संघर्ष के लिए तैयार है।”

This post was last modified on September 10, 2020 9:21 am

Janchowk

Janchowk Official Journalists in Delhi

Share
Published by