Sunday, March 3, 2024

हाई-प्रोफाइल वकील सतीश उके के आवास पर ईडी का छापा

नागपुर। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने गुरुवार को हाई-प्रोफाइल वकील सतीश उके के आवास पर छापेमारी की, जिन्हें महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के खिलाफ कैंपेन चलाने के लिए जाना जाता है। ईडी की एक टीम सीआरपीएफ के साथ वकील और उनके भाई प्रदीप उके के पार्वती नगर स्थित आवास पर सुबह करीब पांच बजे पहुंची और तलाशी शुरु कर दी। यह खबर समाचार एजेंसी आईएएनएस ने दी है।

पिछले हफ्ते फोन टैपिंग मामले में आईपीएस अधिकारी रश्मि शुक्ला के खिलाफ दायर 500 करोड़ रुपये के मानहानि के मामले में सतीश उके कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष नाना पटोले के वकील के रूप काम कर रहे थे।

हालांकि, यह स्पष्ट नहीं है कि केंद्रीय एजेंसी किस विशेष मामले के लिए हाई-प्रोफाइल वकील की जांच कर रही है, हालांकि एक संपत्ति के लेनदेन मामले पर अटकलें चल रही हैं जो कथित तौर पर ईडी के निशाने पर हैं।

मुंबई में, शिवसेना के मुख्य प्रवक्ता और सांसद संजय राउत ने ईडी की छापेमारी की निंदा की और कहा कि चूंकि वह राज्य कांग्रेस प्रमुख के वकील हैं, अगर पटोले पर भी छापा मारा जाता है तो यह आश्चर्य की बात नहीं होगी।

राउत ने दोहराया कि कैसे केंद्र और भाजपा केंद्रीय जांच एजेंसियों की मदद से सरकार को गिराने के अपने प्रयासों में विशेष रूप से महाराष्ट्र में ईडी का दुरुपयोग कर रहे हैं।

राउत ने कहा, “एक अजीब स्थिति देखी जा रही है, जिसमें सूचना और सबूत देने वालों को दंडित किया जा रहा है जबकि दोषी फरार हो रहे हैं। मेरे मामले में, ईडी के खिलाफ मेरी शिकायतों के बावजूद पीएमओ से किसी ने कोई कार्रवाई नहीं की है।”

आपको बता दें कि सतीश उके जज लोया की संदिग्ध मौत के मामले में गवाह भी रहे हैं। उन्होंने इससे जुड़े कई मामलों का खुलासा किया था। और सुप्रीम कोर्ट तक मामले को ले आने में उनकी बड़ी भूमिका थी। माना जा रहा है कि फडनवीस के साथ ही केंद्र सरकार के भी निशाने पर वह थे। खुद सतीश उके की मानें तो एक बार फडनवीस के इशारे पर पुलिस द्वारा उनका एनकाउंटर करने का भी प्रयास किया गया था।

जनचौक से जुड़े

0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments

Latest Updates

Latest

Related Articles