Saturday, February 4, 2023

कानून टालने के केंद्र सरकार के प्रस्ताव पर किसान नेता आज सुनाएंगे फैसला

Follow us:
Janchowk
Janchowkhttps://janchowk.com/
Janchowk Official Journalists in Delhi

ज़रूर पढ़े

आज किसान आंदोलन का 57वां दिन है। किसान यूनियन के नेताओं की केंद्र सरकार के साथ कल हुई बैठक के बाद आज सिंघु बॉर्डर पर दोपहर को किसान नेताओं की बैठक हुई है। इसके बाद शाम पांच बजे किसान नेता प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगे। बता दें कि कल बैठक में सरकार ने कृषि कानूनों को एक साल तक टालने का प्रस्ताव रखा है, जिसके बाद कोई अहम निर्णय निकल सकता है। 22 जनवरी को फिर होने वाली बैठक में किसान नेता केंद्र सरकार के फैसले पर अपना रुख स्पष्ट करेंगे।

उधर, कृषि कानूनों के मुद्दे पर समाधान के लिए सुप्रीम कोर्ट की तरफ से बनाई गई कमेटी आज किसान संगठनों के साथ पहली बैठक करेगी। तीन सदस्यीय कमेटी ने कहा है कि जो किसान नहीं आएंगे, उनसे खुद मिलने भी जाएंगे। इसके अलावा ऑनलाइन सुझाव लेने के लिए पोर्टल बनाया गया है, जिस पर 15 मार्च तक किसानों के सुझाव लिए जाएंगे।

वहीं 26 जनवरी को प्रस्तावित ट्रैक्टर रैली को लेकर योगेंद्र यादव का कहना है कि हरियाणा, दिल्ली और यूपी पुलिस से किसानों की बैठक हो रही है, हमें उम्मीद है कि गणतंत्र दिवस की रैली बिल्कुल होगी।

इस बीच किसान नेताओं ने कहा है कि वो 26 जनवरी को ट्रैक्टर रैली जरूर निकालेंगे। बता दें कि इसके खिलाफ केंद्र सरकार की तरफ से दिल्ली पुलिस ने सुप्रीम कोर्ट में अर्जी लगाई थी। बुधवार को सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि ट्रैक्टर रैली या किसी प्रदर्शन के खिलाफ सरकार की अर्जी पर कोई आदेश जारी नहीं करेंगे। इस बारे में पुलिस को फैसला लेने दें।

कोर्ट के आदेश के बाद आज ट्रैक्टर रैली को लेकर किसानों से बात करने के लिए दिल्ली पुलिस के ज्वाइंट पुलिस कमिश्नर एसएस यादव सिंघु बॉर्डर के पास एक रिजॉर्ट में पहुंचे।

तत्काल समाचारों के लिए, हमारा जनचौक ऐप इंस्टॉल करें

Latest News

सुप्रीम कोर्ट के कड़े रुख के बाद लंबित पांच जजों की नियुक्ति को सरकार जल्द करेगी मंजूर

ऐसा प्रतीत हो रहा है कि जजों की नियुक्ति को लेकर सुप्रीम कोर्ट कॉलेजियम और मोदी सरकार के बीच...

More Articles Like This