Tuesday, November 29, 2022

 फिल्ममेकर अविनाश दास को कोर्ट से मिली जमानत

Follow us:
Janchowkhttps://janchowk.com/
Janchowk Official Journalists in Delhi

ज़रूर पढ़े

फिल्ममेकर अविनाश दास को अहमदाबाद कोर्ट से जमानत मिल गई है। हाल में ही आईएएस पूजा सिंघल व केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह की तस्वीर शेयर कर भ्रम फैलाने का उन पर आरोप लगा था। इस मामले में अविनाश दास को अहमदाबाद क्राइम ब्रांच ने मुंबई से हिरासत में लिया था। अब कोर्ट से फिल्म मेकर को राहत मिली है और उन्हें बेल मिल गई है।

फिल्ममेकर अविनाश दास ने जेल में बंद आईएएस अफसर पूजा सिंघल के साथ अमित शाह की तस्वीर शेयर की थी। इस तस्वीर पर बवाल मचा और मामला इतना बढ़ गया कि अहमदाबाद क्राइम ब्रांच ने फिल्ममेकर के खिलाफ केस दर्ज किया। बता दें पूजा सिंघल इन दिनों जेल में बंद हैं। उन्हें ईडी ने मनी लॉन्ड्रिंग केस में गिरफ्तार किया था।

गत14 मई को अविनाश दास के खिलाफ केस दर्ज हुआ। उन्होंने केंद्रीय मंत्री अमित शाह के अलावा तिरंगे की ड्रेस पहने एक महिला की आपत्तिजनक तस्वीर भी शेयर की थी। इसके बाद उन पर आरोप लगा कि उन्होंने अमित शाह को लेकर भ्रम फैलाया और राष्ट्रीय ध्वज का भी अपमान किया है। फिर अहमदाबाद क्राइम ब्रांच ने फिल्म मेकर को उनके मुंबई स्थित फ्लैट से हिरासत में लिया।

कोर्ट में अहमदाबाद क्राइम ब्रांच ने दास की जमानत का विरोध किया। पुलिस ने कहा कि अविनाश दास को पेश होने के लिए तीन नोटिस भेजे गये, लेकिन वह पुलिस के सामने पेश नहीं हुए। पुलिस ने अविनाश दास पर पहले भी ऐसे ही फर्जी पोस्ट शेयर करने के आरोप लगाए और साथ ही जांच में सहयोग नहीं करने का आरोप भी लगाया।

अविनाश दास मशहूर फिल्ममेकर हैं जिन्हें उनकी फिल्म ‘अनारकली ऑफ आरा’ के लिए जाना जाता है। इस फिल्म में स्वरा भास्कर नजर आई थीं। इतना ही नहीं वह नेटफ्लिक्स की ‘शी’, जी5 की ‘रात बाकी है’ और एमएक्स प्लेयर की ‘रनअवे लुगाई’ जैसे प्रोजेक्ट डायरेक्ट कर चुके हैं।

इस मामले में अविनाश को अहमदाबाद क्राइम ब्रांच ने मुंबई से हिरासत में लिया था। अब कोर्ट से अविनाश दास को राहत मिल गई है। कोर्ट से उन्हें बेल मिल गई है। इससे पहले बॉम्बे हाईकोर्ट ने उनकी ट्रांजिट प्री-अरेस्ट जमानत याचिका को खारिज कर दिया था। दरअसल, अविनाश पर कथित तौर पर फेक खबर फैलाने के लिए जालसाजी का मामला 14 मई को दर्ज किया गया था। फिल्ममेकर ने निलंबित आईएएस पूजा सिंघल के साथ देश के गृहमंत्री अमित शाह की फोटो शेयर की थी। इसके साथ ही अविनाश पर तिरंगे को अपमान करने का भी आरोप लगा था।

पुलिस के मुताबिक, फिल्ममेकर की फेसबुक पोस्ट 17 मार्च की है। क्राइम ब्रांच की तरफ से जारी बयान में बताया गया था कि दास ने तिरंगे के साथ महिला की अश्लील तस्वीर राष्ट्रीय ध्वज का अपमान करने के इरादे से पोस्ट की थी। क्राइम ब्रांच ने अविनाश पर राष्ट्रीय ध्वज का अपमान करने के तहत मामला दर्ज किया था। इसके बाद अविनाश को गुजरात पुलिस की क्राइम ब्रांच ने मुंबई स्थित उनके घर से हिरासत में लिया था।

वहीं गृहमंत्री के साथ वाली तस्वीर अविनाश ने 8 मई को शेयर की थी। इसमें उन्होंने गृहमंत्री अमित शाह और पूजा सिंघल की फोटो शेयर करते हुए लिखा था कि घर से करोड़ों का कैश पकड़ने से थोड़े दिन पहले पूजा की एक तस्वीर।हालांकि, पुलिस ने बताया कि यह तस्वीर 5 साल पुरानी थी। ऐसे में अविनाश दास पर जालसाजी और आईटी एक्ट के तहत फर्जी पोस्ट फैलाने के आरोप लगाए गए हैं और इसके साथ ही उनका ट्विटर अकाउंट भी हटा दिया गया। बता दें कि पूजा सिंघल को ईडी ने मनी लॉन्ड्रिंग केस में गिरफ्तार किया गया था। वे इन दिनों जेल में बंद हैं।

(जनचौक ब्यूरो की रिपोर्ट।)

तत्काल समाचारों के लिए, हमारा जनचौक ऐप इंस्टॉल करें

Latest News

गुजरात चुनाव: मोदी के सहारे BJP, कांग्रेस और आप से जनता को उम्मीद

27 वर्षों के शासन की विफलता का क्या सिला मिलने जा रहा है, इसको लेकर देश में करोड़ों लोग...
जनचौक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें

Janchowk Android App

More Articles Like This

- Advertisement -