दिग्गज बल्लेबाज ए बी डिविलियर्स पर रंगभेद का आरोप

Estimated read time 1 min read

दक्षिण अफ्रीका के दिग्गज बल्लेबाज व पूर्व कप्तान एबी डिविलियर्स पर उनकी ही टीम के खिलाड़ियों ने रंगभेद के आरोप लगाये हैं। तेज गेंजबाद कगिसो रबादा ने जहां उन पर नस्लीय आधार पर भेदभाव के आरोप लगाए तो अब बल्लेबाज खाया जोंड़ो ने उन्हें टीम से बाहर करने की बात कही है।

पूर्व चयनकर्ता हुसैन मानेक ने गुरुवार को दक्षिण अफ्रीका के सामाजिक न्याय और राष्ट्र निर्माण (SJN) की सुनवाई के दौरान गवाही दी थी कि एबी डिविलियर्स ने 2015 में भारत दौरे पर जोंड़ो को दक्षिण अफ्रीका के लिए खेलने से रोकने में भूमिका निभाई थी। मानेक ने स्वीकार किया कि उन्हें जोंडो का समर्थन नहीं करने का पछतावा है।

मानेक ने गवाही देते हुए कहा कि एबी डिविलियर्स मुंबई में होने वाले पांचवें वनडे के लिए खाया जोंड़ो को टीम में शामिल करने को लेकर खुश नहीं थे और खराब फॉर्म में होने के बावजूद डेविड मिलर को पांचवें वनडे के लिए  मौका दिया गया।

वहीं क्रिकेटर खाया जोंड़ो ने खाया जोंडो ने 22 जुलाई को लोकपाल कार्यालय में अपनी गवाही देते हुए कहा कि-“इस घटना के बाद डिविलियर्स के प्रति उनके मन में सम्मान भी खत्म हो गया। जोंड़ो ने आगे कहा कि – “कप्तान ने मुझे टीम के बाकी हिस्सों से दूर, एक कोने में बुलाया और कहा कि मैं ही वह हूं, जिसे लगा कि आपको नहीं खेलना चाहिए। वह खुद को समझाने की कोशिश में थे और इस फैसले की पूरी जिम्मेदारी ले रहे थे।

जोंडो ने कहा कि – “जब उन्होंने मुझे समझाया, एक कप्तान के रूप में उनके प्रति मेरे मन में कोई सम्मान नहीं बचा। मैंने अपने क्रिकेट हीरो के रूप में उन्हें देखा था, क्योंकि मुझे विश्वास नहीं हो रहा था कि यह शख्स मेरे लिए खुद को सही ठहराने की कोशिश कर रहा है।”

खाया जोंड़ो को हटाने और डीन एल्गर को पसंद करने के फैसले ने दक्षिण अफ्रीका क्रिकेट टीम में एक आंदोलन का नेतृत्व किया, जिसमें ब्लैक क्रिकेटरों के एक समूह ने क्रिकेट दक्षिण अफ्रीका को एक पत्र लिखा, जिसमें इस पर नाराज़गी जाहिर की गई थी।”

बता दें कि साल 2015 में खाया जोंड़ो भारत दौरे पर आयी दक्षिण अफ्रीका की 15 सदस्यीय टीम का हिस्सा रहे थे और सीरीज के 2-2 से बराबरी के बाद उन्हें निर्णायक मुकाबले से बाहर कर दिया गया था। डीन एल्गर तब टेस्ट टीम का हिस्सा बनने के लिए भारत दौरे पर गए थे लेकिन उन्होंने लगातार सीरीज खेली।

इससे पहले दक्षिण अफ्रीका के तेज गेंदबाज कगिसो रबादा ने एबी डिविलियर्स पर नस्लीय आधार पर भेदभाव का आरोप लगाया था।

गौरतलब है कि एबी डिविलियर्स ने अपने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट कैरियर में 114 टेस्ट, 228 वनडे और 78 टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेले हैं। उनके नाम टेस्ट में 8765, वनडे में 9577 और टी20 अंतरराष्ट्रीय करियर में कुल 1672 रन दर्ज़ हैं।

You May Also Like

More From Author

0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments