Subscribe for notification

गुजरात से यूपी के लिए चले प्रवासी मज़दूर रास्ते में रोके गए

नई दिल्ली। विभिन्न सूबों में फँसे प्रवासी मज़दूरों को अपने घर लौटते समय जगह-जगह परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। इसी तरह से गुजरात से चली एक बस को मध्य प्रदेश सरकार ने दाहोद के पास स्थित गुजरात और मध्य प्रदेश की सीमा पर रोक दिया है। रात 12 बजे से ही बस में सवार तक़रीबन 77 यात्री वहीं खड़े हैं।

जनचौक की इन सवारियों के समूह नेता घनश्याम सिंह से बात हुई। उन्होंने बताया कि उनकी बस सूरत के कड़ोदरा से कल चली थी। लेकिन रात में दाहोद पहुँचने पर उसके आगे नहीं जाने दिया गया। मध्य प्रदेश शासन ने बस को आगे बढ़ने से रोक दिया। प्रशासन का कहना था कि इस सिलसिले में उसे यूपी सरकार की तरफ़ से कोई दिशा निर्देश नहीं मिला है लिहाज़ा वह बस को आगे नहीं जाने दे सकता है। दिलचस्प बात यह है कि ये सभी सवारियाँ गोरखपुर की हैं। और गोरखपुर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का गृह जिला भी है। अगर अपने घर-जवार के लोगों के साथ मुख्यमंत्री और उनकी सरकार इस तरह का व्यवहार कर रही है तो इससे समझा जा सकता है कि सूबे के दूसरे यात्रियों के साथ क्या हो रहा होगा।

बताया तो यहाँ तक जा रहा है कि बस के इंतज़ाम के लिए 5000-5000 रुपये का चंदा लगा है। उसके बाद बस की व्यवस्था हो पायी है। बताया गया कि उत्तर प्रदेश सरकार ने उन्हें यह कहकर रुकवाया है कि उसके पास इंतजाम नहीं है। सरकारों के इस गैरजिम्मेदाराना और लापरवाही भरे रवैये के चलते मजदूर बाल बच्चों के साथ कल से बॉर्डर पर भूखे प्यासे पड़े हैं।

यहाँ चित्र में एक बस का पास दिया गया है जिसमें 77 लोग सवार हैं। करीब 7000 लोगों को भेजने के लिए इस तरह के पास जारी हुए हैं। और सभी को मध्यप्रदेश बॉर्डर के विभिन्न एंट्री प्वाइंट्स पर अलग अलग रोका गया है जिससे कि ये इकट्ठे होकर हंगामा न खड़ा कर दें।

This post was last modified on May 2, 2020 4:42 pm

Janchowk

Janchowk Official Journalists in Delhi

Leave a Comment
Disqus Comments Loading...
Share
Published by

Recent Posts

नए भारत में बदहाल किसान

सरकार कोविड-19 के कारण उत्पन्न स्वास्थ्य आपातकाल जैसी दशाओं के मध्य - जबकि संसद से…

25 mins ago

18 दलों के नेताओं ने राष्ट्रपति को सौंपा ज्ञापन, निलंबित 8 सासंदों ने संसद परिसर में रात भर धरना दिया

नई दिल्ली। नरेंद्र मोदी सरकार द्वारा राज्यसभा को बंधक बनाकर पास कराए गए 2 किसान…

1 hour ago

एमएसपी पर खरीद की गारंटी नहीं तो बढ़ोत्तरी का क्या मतलब है सरकार!

नई दिल्ली। किसानों के आंदोलन से घबराई केंद्र सरकार ने गेहूं समेत छह फसलों के…

2 hours ago

बिहार की सियासत में ओवैसी बना रहे हैं नया ‘माय’ समीकरण

बिहार में एक नया समीकरण जन्म ले रहा है। लालू यादव के ‘माय’ यानी मुस्लिम-यादव…

13 hours ago

जनता से ज्यादा सरकारों के करीब रहे हैं हरिवंश

मौजूदा वक्त में जब देश के तमाम संवैधानिक संस्थान और उनमें शीर्ष पदों पर बैठे…

15 hours ago

भुखमरी से लड़ने के लिए बने कानून को मटियामेट करने की तैयारी

मोदी सरकार द्वारा कल रविवार को राज्यसभा में पास करवाए गए किसान विधेयकों के एक…

16 hours ago