Thursday, December 2, 2021

Add News

जगदेव प्रसाद के जन्म दिवस पर बिहार में शुरू हुआ ‘शहीद जगदेव-कर्पूरी संदेश अभियान’

ज़रूर पढ़े

आज भागलपुर के खरीक प्रखंड के सुरहा गांव में शहीद जगदेव प्रसाद के विचारों, विरासत और बहुजनों पर ब्राह्मणवादी-कॉरपोरट हमले पर चर्चा हुई। शहीद जगदेव प्रसाद के जन्म दिवस  के इस मौके पर ‘शहीद जगदेव-कर्पूरी संदेश अभियान’ शुरू किया गया।

सामाजिक न्याय आंदोलन (बिहार) के गौतम कुमार प्रीतम ने कहा कि पिछड़े, दलित, आदिवासी और मुसलमानों की आबादी 90 प्रतिशत है और शहीद जगदेव प्रसाद ने 90 प्रतिशत शोषितों के लिए राजनीति करने की साफ शब्दों में घोषणा कर रखी थी। उनकी पक्षधरता स्पष्ट थी, आज भी 90 और 10% का विभाजन स्पष्ट है।

मौके पर अर्जुन शर्मा और अंजनी ने कहा कि शहीद जगदेव प्रसाद ने ‘सबके’ होने का दावा नहीं किया। उनकी राजनीति, ‘सबकी’ राजनीति यानी सर्वजन या ए टू जेड की राजनीति नहीं थी। उन्होंने साफ नारा दिया था ‘सौ में नब्बे शोषित हैं, शोषितों ने ललकारा है! धन-धरती-राजपाट में नब्बे भाग हमारा है!’ और ‘नब्बे पर दस का शासन नहीं चलेगा, नहीं चलेगा!’ यह नारा आज के दौर में ज्यादा प्रासंगिक हो गया है।

अवसर पर बहुजन स्टूडेंट्स यूनियन, बिहार के पांडव शर्मा व अनुपम आशीष ने कहा कि केन्द्र-राज्य सरकार 90 के खिलाफ 10 के पक्ष में है। ये सरकारें 10 के हित में ही कानून और नीतियां बना रही हैं। हमें शहीद जगदेव प्रसाद के विचार व संघर्ष की विरासत के साथ नई लड़ाई छेड़नी होगी। अध्यक्षता कर रहे लक्ष्मण मंडल ने सभी को धन्यवाद ज्ञापित किया।

इस मौके पर सुधीर चंद्र शास्त्री, चतुरी शर्मा, अखिलेश शर्मा, निर्भय कुमार, सौरव पासवान, अंकेश कुमार ने भी अपने विचार व्यक्त किए। इसके अलावा गंगा मंडल, शशि मंडल, ब्रजेश, इंदल शर्मा, जयकिशोर पासवान, बुचो शर्मा आदि मौजूद रहे।

(वरिष्ठ पत्रकार विशद कुमार की रिपोर्ट।)

तत्काल समाचारों के लिए, हमारा जनचौक ऐप इंस्टॉल करें

Latest News

किसान आंदोलन ने खेती-किसानी को राजनीति का सर्वोच्च एजेंडा बना दिया

शहीद भगत सिंह ने कहा था - "जब गतिरोध  की स्थिति लोगों को अपने शिकंजे में जकड़ लेती है...
जनचौक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें

Janchowk Android App

More Articles Like This

- Advertisement -