Subscribe for notification

अब हिमाचल प्रदेश के झंडुत्ता में पटाखा भरी लोई खाने से गर्भवती गाय का जबड़ा उड़ा

नई दिल्ली। केरल की ही बिल्कुल तरह पशु के प्रति बर्बर व्यवहार का एक मामला हिमाचल प्रदेश में आया है। यहां के बिलासपुर जिले में एक गर्भवती गाय का जबड़ा उस समय फट गया जब उसने गेंहू के आटे से बने एक गोले को खा लिया। बताया जाता है कि आटे के गोले के भीतर पटाखा भरा हुआ था। जिसके खाते ही वह फट गया। घटना बिलासपुर जिले के झंडुत्ता इलाके की है।

पुलिस ने इस मामले में एक शख्स को पालतू जानवर को चोट पहुंचाने के मामले में गिरफ्तार किया है।

यह मामला उस घटना के एक दिन बाद सामने आया जब केरल के पलक्कड़ में पटाखा भरे अनानास को खा लेने से एक हथिनी की मौत हो गयी थी।

बताया जाता है कि झंडुत्ता की घटना 26 मई को हुई थी। लेकिन यह सामने तब आयी जब गाय के मालिक गुरदयाल सिंह ने घायल गाय का वीडियो सोशल मीडिया पर अपलोड किया।

सामने आते ही वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। और गाय को पटाखा खिलाने वाले बदमाशों के खिलाफ कार्रवाई की मांग शुरू हो गयी।

इस क्रूर और नृशंस घटना को अंजाम देने के लिए गुरदयाल ने अपने एक पड़ोसी को जिम्मेदार ठहराया है। उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि उनकी गाय जब मैदान में चर रही थी तो नंदलाल ने उनकी गाय को पटाखों वाला गेंहू का गोला खिला दिया।

बिलासपुर के एसपी दिवाकर शर्मा ने बताया कि गाय को बेहद विस्फोटक माना जाने वाला आलू बम खिलाया गया था।

उन्होंने बताया कि प्रिवेंशन ऑफ क्रुएलिटी टू एनिमल्स एक्ट की धारा 286 के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है। और इस मामले में गाय के मालिक तथा दूसरों द्वारा चिन्हित किए गए व्यक्ति के खिलाफ जांच की जा रही है।

वन विभाग के अधिकारियों का कहना है कि जानवरों को मारने के लिए आटे के गोले में पटाखों को रखकर खिलाना एक आम चलन है। ऐसा अक्सर नील गायों और जंगली सुअरों से अपनी फसलों की रक्षा के लिए किया जाता है।

This post was last modified on June 17, 2020 2:01 am

Janchowk

Janchowk Official Journalists in Delhi

Leave a Comment
Disqus Comments Loading...
Share
Published by

Recent Posts

झारखंडः पिछली भाजपा सरकार की ‘नियोजन नीति’ हाई कोर्ट से अवैध घोषित, साढ़े तीन हजार शिक्षकों की नौकरियों पर संकट

झारखंड के हाईस्कूलों में नियुक्त 13 अनुसूचित जिलों के 3684 शिक्षकों का भविष्य झारखंड हाई…

14 mins ago

भारत में बेरोजगारी के दैत्य का आकार

1990 के दशक की शुरुआत से लेकर 2012 तक भारतीय सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) में…

53 mins ago

अद्भुत है ‘टाइम’ में जीते-जी मनमाफ़िक छवि का सृजन!

भगवा कुलभूषण अब बहुत ख़ुश हैं, पुलकित हैं, आह्लादित हैं, भाव-विभोर हैं क्योंकि टाइम मैगज़ीन…

2 hours ago

सीएफएसएल को नहीं मिला सुशांत राजपूत की हत्या होने का कोई सुराग

एक्टर सुशांत सिंह राजपूत की मौत की गुत्थी अब सुलझती नजर आ रही है। सुशांत…

2 hours ago

फिर सामने आया राफेल का जिन्न, सीएजी ने कहा- कंपनी ने नहीं पूरी की तकनीकी संबंधी शर्तें

नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक (सीएजी) की रिपोर्ट से राफेल सौदे विवाद का जिन्न एक बार…

2 hours ago

रिलेटिविटी और क्वांटम के प्रथम एकीकरण की कथा

आधुनिक विज्ञान की इस बार की कथा में आप को भौतिक जगत के ऐसे अन्तस्तल…

3 hours ago