ट्विटर के बाद राहुल गांधी को अब फेसबुक और इंस्टाग्राम पर बैन कराने की कोशिश

Estimated read time 2 min read

कांग्रेस नेता राहुल गांधी को ट्विटर पर ब्लॉक करवाने के बाद अब राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग (NCPCR) ने राहुल गांधी के फेसबुक और इंस्टाग्राम अकाउंट पर भी कार्रवाई की मांग की है।

फेसबुक को पत्र लिखकर एनसीपीसीआर ने कहा कि उसने राहुल गांधी के इंस्टाग्राम पर पोस्ट किया हुआ एक वीडियो देखा है जिसमें बच्ची के माता-पिता की पहचान उजागर होती है। उसके मुताबिक, इस वीडियो में बच्ची के पिता और माता का चेहरा स्पष्ट रूप से देखा जा सकता है जो कानून का उल्लंघन है। 

आयोग ने फेसबुक से कहा कि राहुल गांधी के इंस्टाग्राम प्रोफाइल को लेकर वह उचित कार्रवाई करे क्योंकि जो वीडियो डाला गया है वह किशोर न्याय कानून, 2015 और यौन अपराधों से बच्चों का संरक्षण कानून (पॉक्सो) और भारतीय दंड संहिता की विभिन्न प्रावधानों का उल्लंघन है। उसने कहा कि इस वीडियो को इंस्टाग्राम से हटाया जाए। एनसीपीसीआर का कहना है कि बच्ची के माता-पिता की पहचान उजागर करने से किशोर न्याय कानून की धारा 74, पॉक्सो कानून की धारा 23 और भारतीय दंड संहिता की धारा 228ए का उल्लंघन हुआ 

है। 

 NCPCR का कहना है कि राहुल गांधी ने रेप पीड़िता के माता-पिता की पहचान उजागर करके पॉक्सो एक्ट का उल्लंघन किया है। ऐसे में उनके ख़िलाफ़ कार्रवाई होनी चाहिए। आयोग ने फेसबुक और इंस्टाग्राम को इस संबंध में चिट्ठी लिखी है।

https://www.instagram.com/tv/CSgblcYB3Au/?utm_medium=copy_link

गौरतलब है कि NCPCR के बाद ही ट्विटर ने राहुल गांधी के अकाउंट को ब्लॉक किया था और उसके साथ कांग्रेस के कई अन्य नेताओं के अकाउंट भी ब्लॉक हुए थे। दरअसल राहुल गांधी ने कथित तौर पर रेप पीड़िता के परिवार के सदस्यों से मुलाकात की थी और सोशल मीडिया पर उनकी तस्वीरें शेयर की थी। इसके बाद NCPCR ने रेप पीड़िता की पहचान को उजागर करने को लेकर ट्विटर से शिकायत की थी जिसके बाद राहुल गांधी का अकाउंट ब्लॉक हुआ था। राहुल गांधी का आरोप है कि ट्विटर भारत की राजनीतिक प्रक्रिया में दखल दे रहा है और सरकार के इशारे पर नाच रहा है।

https://www.instagram.com/p/CSgSF_yBBZR/?utm_medium=copy_link

ट्विटर और भारत सरकार के बीच जारी विवाद के बीच कंपनी ने बड़ा कदम उठाया है। कंपनी ने अब भारत में किसी निदेशक को रखने का फैसला नहीं किया है। ट्विटर इंडिया को अब एक ‘नेतृत्व परिषद’ द्वारा संचालित किया जाएगा, जिसके प्रमुख अधिकारी ट्विटर को रिपोर्ट करेंगे। ट्विटर इंडिया ने शुक्रवार को मैनेजिंग डायरेक्टर मनीष माहेश्वरी को इस पद से हटा दिया। वह अब माइक्रोब्लॉगिंग साइट के लिए अमेरिकी में ऑपरेशन्स संभालेंगे। कंपनी ने खुद ही ये जानकारी साझा की है। 

मनीष माहेश्वरी ट्विटर इंडिया के मैनेजिंग डायरेक्टर के पद पर वर्ष 2019 से बने हुए थे। कंपनी ने अमेरिका में रेवेन्यू स्ट्रेटजी एंड ऑपरेशन्स में सीनियर डायरेक्टर के पद पर नियुक्त किया है। ट्विटर कंपनी के वाइस प्रेसिडेंट यूसैन ने ट्विटर पर माहेश्वरी की नई भूमिका के लिए स्वागत किया और बधाई दी। उन्होंने ट्वीट में लिखा है कि दो साल से ज्यादा ट्विटर इंडिया में लीडरशिप के लिए धन्यवाद।

You May Also Like

More From Author

0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments