Wednesday, September 27, 2023

कंगना की ‘हेट स्पीच’ के खिलाफ बॉम्बे हाई कोर्ट में दाखिल हुई याचिका

बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत और उनकी बहन रंगोली चंदेल को लगता है विवादों में रहने की आदत हो गई है। इन दोनों बहनों की मुंहछोड़ आदत आये दिन कोई न कोई विवाद खड़ा करती रहती है। अब कंगना रनौत और उनकी बहन रंगोली चंदेल के खिलाफ बॉम्बे हाई कोर्ट में एक याचिका दायर की गई है। इसमें दोनों पर ट्विटर के जरिए लगातार देश में ‘नफरत और घृणा’ फैलाने का आरोप लगाया गया है। याचिकाकर्ता ने अदालत से दोनों के अकाउंट को ब्लॉक करने के लिए ट्विटर को निर्देश देने की मांग की है।

याचिकाकर्ता का कहना है कि कंगना के ट्वीट को देखकर ऐसा लगता है कि उनका एक धर्म विशेष से जुड़े लोगों, एक राज्य और सरकारी अधिकारियों के लिए कोई सम्मान नहीं है। यही नहीं वे लगातार अदालत का भी मजाक बनाती रही हैं। बांद्रा में हुई भीड़ को लेकर सोशल मीडिया में उन्होंने एक धर्म विशेष को लेकर आपत्तिजनक टिप्पणी की थी। अदालत के फैसले पर उनकी ओर से लगातार आपत्तिजनक बातें कही गईं।

याचिकाकर्ता ने कहा है कि कंगना ने अपने ट्विटर अकाउंट से ज्युडिश्यरी की तुलना ‘पप्पू सेना’ से की, यह एक तरह का ‘क्रिमिनल कंटेम्प्ट है।’ याचिकाकर्ता ने यह भी कहा है कि उनकी बहन रंगोली चंदेल के अकाउंट से भी इसी तरह के हेट कमेंट्स किए जाते रहे हैं। याचिकाकर्ता ने अदालत में कंगना द्वारा सोशल मीडिया में लिखे कई संदेशों को भी सामने रखा है। इसके आधार पर ट्विटर से उनके अकाउंट को ब्लॉक करने की मांग की गई है।

इससे पहले बॉलीवुड एक्ट्रेस बिदिता बाग ने ट्विटर इंडिया से शिकायत की है। बिदिता ने कहा है कि लगातार उनकी ओर से हेट ट्वीट किए जा रहे हैं। कंगना ने हाल ही में किसानों के प्रदर्शन में शामिल बुजुर्ग महिला को लेकर ट्वीट किया, जिस पर दिलजीत दोसांझ ने उन्हें नसीहत दी कि इतना अंधा नहीं होना चाहिए। इसके बाद कंगना ने दिलजीत को ‘करण जौहर का पालतू’ कह डाला और फिर ट्विटर पर यह जंग काफी आगे पहुंच गई। इसी को आधार बना बिदिता बाग ने कंगना की ट्विटर पर शिकायत की है और लिखा है, ‘डियर ट्विटर इंडिया, प्लीज इनका एकाउंट सस्पेंड कर दीजिए। वह नफरत फैला रही हैं। उनके झूठ कोविड 19 वायरस से कहीं ज्यादा खतरनाक हैं।’

कंगना रनौत ने दिलजीत दोसांझ को लिखा था, ‘ओ चमचे चल, तू जिनकी चाट-चाट के काम लेता है, मैं उनकी रोज बजाती हूं, ज्यादा मत उछल, मैं कंगना रनौत हूं तेरे जैसी चमची नहीं, जो झूठ बोलूं, मैंने सिर्फ और सिर्फ शाहीन बाग वाली प्रोटेस्टर पर कमेंट किया है, अगर कोई गलत साबित कर दे तो माफी मांग लूंगी।’

इस बीच बॉलीवुड गीतकार जावेद अख्तर ने गुरुवार को अभिनेत्री कंगना रनौत के खिलाफ दायर मानहानि की शिकायत मामले में अंधेरी की मेट्रोपॉलिटन अदालत के समक्ष वकील के माध्यम से अपना बयान दर्ज करवाया। जावेद अख्तर ने पिछले महीने एक्ट्रेस कंगना के खिलाफ अंधेरी मेट्रोपॉलिटन मजिस्ट्रेट के सामने एक आपराधिक शिकायत दर्ज कराई थी। उन्होंने एक्ट्रेस पर एक टेलीविजन इंटरव्यू में कथित रूप से उनके खिलाफ मानहानि और बेबुनियाद टिप्पणी करने का आरोप लगाया था। कंगना ने दावा किया था कि जावेद अख्तर ने उन्हें घर बुलाकर धमकाया और ऋतिक रोशन से माफी मांगने के लिए कहा था।

कंगना के खिलाफ अब तक चार केस दर्ज हो चुके हैं। अक्तूबर में कर्नाटक के तुमकुर में कंगना के खिलाफ मामला दर्ज हुआ था। उन पर किसानों के अपमान का आरोप लगा था। इसके बाद मुंबई में दो केस हुए। इनमें कंगना पर धर्म के आधार पर नफरत फैलाने और अदालत का अपमान करने का आरोप लगा था। चौथा केस जावेद अख्तर की ओर से दर्ज करवाया गया था।

किसान आंदोलन को लेकर किए गए ट्वीट  के बाद बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत की मुश्किलें खत्म होने का नाम नहीं ले रही हैं। अपने ट्वीट के लिए उन्हें काफी विरोध का सामना करना पड़ा रहा है। अब हरियाणा की खाप पंचायतों ने कंगना को खुली चेतावनी दी है और कहा है कि अगर उनमें हिम्मत है तो वो हरियाणा आकर दिखाएं। अखिल भारतीय सर्वजातीय पुनिया खाप के राष्ट्रीय प्रवक्ता एवं खाप नेता जितेंद्र छातर ने कहा कि पूरे देश की खापें कंगना रनौत के शर्मनाक बयान की कड़े शब्दों में निंदा करती हैं और उनको यह चेतावनी देती हैं कि यह बयान देने के बाद उनमें अगर हिम्मत है तो हरियाणा और आसपास के राज्यों पश्चिमी उतर प्रदेश, पंजाब, राजस्थान में घुस कर दिखाएं। उनको अपनी औकात का पता चल जाएगा।

उधर, कंगना का पंजाब की बुजुर्ग महिला पर कमेंट करना भारी पड़ता नजर आ रहा है। कंगना रनौत के बयान से नाराज दिल्‍ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के अध्यक्ष मनजिंदर सिंह सिरसा ने कंगना को लीगल नोटिस भेज कर जवाब मांगा है। कंगना ने पंजाब के बठिंडा जिले के गांव जंडियां की रहने वाली बुजुर्ग महिला महिंदर कौर की एक फोटो शेयर करते हुए आरोप लगाया था कि इस तरह की महिलाएं पैसे लेकर किसान आंदोलन जैसे कार्यक्रम में शामिल होती हैं।

कंगना ने कहा था कि दिल्ली के शाहीन बाग के प्रदर्शन में शामिल होने वालीं 90 वर्षीय बिलकीस बानो ही इस आंदोलन में शामिल हैं। उन्होंने दावा किया था कि बिलकीस बानो 100 रुपये के लिए विरोध प्रदर्शन शामिल हो जाती हैं।

(लेखक वरिष्ठ पत्रकार और कानूनी मामलों के जानकार हैं। वह इलाहाबाद में रहते हैं।)

जनचौक से जुड़े

0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of

guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments

Latest Updates

Latest

Related Articles