ज़रूरी ख़बर

शिवसेना ने की मुंडे और जज लोया मौत की सीबीआई जांच की मांग

नई दिल्ली। अभिनेता सुशांत राजपूत मामले की जांच सीबीआई को दिए जाने से नाराज शिवसेना ने बीजेपी नेता गोपीनाथ मुंडे और जज बीएच लोया की जांच भी सेंट्रल एजेंसी से कराने की मांग की है।

पूर्व केंद्रीय मंत्री और वरिष्ठ शिवसेना नेता अरविंद सावंत ने कहा कि “यहां तक कि हम भी गोपीनाथ मुंडे और जज लोया की मौत की सीबीआई जांच की मांग कर रहे हैं। इन मामलों में भी सच क्या है वह बाहर आना चाहिए।”

उन्होंने कहा कि “सीबीआई जांच की मांग अक्सर नहीं की जाती है। किसी ने मांग कर ली है इसलिए सीबीआई जांच बैठा दी जाए। यह सही नहीं है। सीबीआई जांच बैठाने के लिए कुछ प्रक्रियाएं हैं जिन्हें पूरा किया जाना चाहिए। लेकिन शासन के संघीय ढांचे पर आधारित संविधान को दरकिनार करने का प्रयास किया जा रहा है।”

उन्होंने आगे कहा कि मुंबई पुलिस सुशांत सिंह मौत के मामले का निष्पक्ष तरीके से जांच कर रही थी। लेकिन केस को सीबीआई को सौंपने का फैसला उसके मनोबल को तोड़ने का प्रयास है।

जज लोया जो सोहराबुद्दीन एनकाउंटर मामले की सुनवाई कर रहे थे और जिसमें मौजूदा गृहमंत्री अमित शाह भी शामिल थे,  की मौत पर भी संदिग्ध थी। मुंडे की 2014 में एक सड़क दुर्घटना में मौत हुई थी। लेकिन एक अमेरिकी हैकर ने दावा किया था कि उनकी हत्या की गयी थी क्योंकि वह ईवीएम हैकिंग के बारे में जानते थे।

इस बीच, महाराष्ट्र के बीजेपी अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल ने शिवसेना के मुंडे और लोया मामले की सीबीआई जांच की मांग की कड़ी आलोचना की है। उन्होंने कहा कि “इन दो मौतों और सुशांत के केस के बीच कोई रिश्ता नहीं है। जज लोया मामले को सामने लाने की अब कोई जरूरत नहीं है क्योंकि यह पहले ही हल हो चुका है। और पूरी दुनिया जानती है कि मुंडे की मौत सड़क दुर्घटना में हुई थी।”

(डिक्कन हेरल्ड में प्रकाशित रिपोर्ट पर आधारित।)

This post was last modified on August 16, 2020 4:15 pm

Share
Published by