Subscribe for notification

ट्रम्प ने ठुकराया मोदी के गणतंत्र दिवस का न्योता

जनचौक ब्यूरो

नई दिल्ली। पीएम मोदी के सबसे विश्वसनीय दोस्त माने जाने वाले अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने गणतंत्र दिवस पर मुख्य अथिति के तौर पर भेजा गया उनका न्योता ठुकरा दिया है। अमेरिकी अधिकारियों ने इस संबंध में भारत के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल को एक पत्र भेजकर ट्रंप के भारत आने में असमर्थता जताई है। ट्रंप का मोदी के न्योते को ठुकराने का कारण भारत और अमेरिका के बीच ईरान से तेल के आयात को लेकर आया तनाव और रूस से भारत का रक्षा समझौता माना जा रहा है। हाल ही में रूस से एस-400 मिसाइल रक्षा प्रणाली की खरीद का सौदा किया गया है।

ज्ञात हो कि प्रधानमंत्री मोदी जब 2017 में अमेरिका दौरे पर गए थे तो उन्होंने राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प को भारत आने का न्योता दिया था। बाद में जारी साझा बयान में ट्रम्प के मोदी के न्योते को स्वीकार कर लेने की बात कही गई थी। अप्रैल माह में ट्रम्प को विधिवत रूप से गणतंत्र दिवस में मुख्य अतिथि बनने का न्योता दिया गया था। व्हाइट हाउस की प्रेस सेक्रेटरी सारा सैंडर्स ने न्योता मिलने की पुष्टि भी की थी।

लेकिन इन कुछ महीनों में अमेरिका के रूस के साथ ही ईरान से भी संबंध खराब हुए हैं। रूस पर अमेरिकी चुनाव प्रभावित करने और ब्रिटेन में जासूस को जहर देने के आरोप लगे हैं। ईरान पर संधि के बावजूद गोपनीय तरीके से परमाणु हथियार बनाने का आरोप है। इन सबके चलते अमेरिका ने दोनों पर अलग-अलग स्तर पर प्रतिबंध लगाए हैं।

भारत के रूस और ईरान के साथ व्यापारिक संबंध बनाये रखने की चाहत को ही ट्रम्प की नाराजगी का प्रमुख कारण माना जा रहा है। हाल ही में मोदी के रूस में दौरे जब रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने रक्षा सौदे पर हस्ताक्षर किये तो ट्रम्प ने जल्द अमेरिकी प्रतिक्रिया देखने की चेतावनी दी थी। दूसरी ओर न्योता टालने के पीछे अमेरिकी कांग्रेस का साझा सत्र बताया जा रहा है।

ट्रम्प ने स्टेट ऑफ द यूनियन संबोधित करने के लिए भारत दौरा टालने का निर्णय लिया है। अमेरिकी अधिकारी पहले भी ट्रम्प की यात्रा योजनाओं में बदलाव होने के संकेत दे चुके थे। हालांकि 2015 के गणतंत्र दिवस के कार्यक्रम में जब तत्कालीन अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा मुख्य अतिथि के तौर पर शामिल हुए थे, तब भी कांग्रेस का साझा सत्र जनवरी में ही हुआ था। मोदी के न्यौते के प्रति यह बेरुखी उस ट्रम्प की है, जिसने गत दिनों विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से कहा था- मैं भारत से प्यार करता हूं। मेरे दोस्त प्रधानमंत्री मोदी को मेरा अभिवादन दीजिएगा।

This post was last modified on December 3, 2018 8:01 am

Janchowk

Janchowk Official Journalists in Delhi

Share
Published by