बसपा अध्यक्ष मायावती की यौनिकता का हिंसक मजाक उड़ाते रणदीप हुड्डा का वीडियो वायरल, केस दर्ज

बॉलीवुड अभिनेता रणदीप हुड्डा का एक टॉक शो में बहुजन समाज पार्टी अध्यक्ष मायावती की यौनिकता पर हिंसक व घृणित जोक बनाने के मामले में हरियाणा के हिसार में उनके ख़िलाफ़ शिक़ायत दर्ज  करवाई गई है। 

नेशनल अलायंस फॉर दलित ह्यूमन राइट्स के संयोजक रजत कलसन ने रणदीप हुड्डा के ख़िलाफ़ हिसार के पुलिस अधीक्षक को लिखित शिकायत दी है। 

रजत कलसन बताते हैं कि मशहूर फिल्म अभिनेता रणदीप हुड्डा द्वारा बहुजन समाज पार्टी की अध्यक्षा बहन मायावती के बारे में एक टॉक शो के दौरान अश्लील, नस्लवादी व आपत्तिजनक जोक सुनाने के मामले में उक्त अभिनेता के ख़िलाफ़ मुक़दमा दर्ज़ करने में गिरफ्तार करने के बारे में आज हिसार के पुलिस अधीक्षक को एक शिकायत दी गई। 

बता दें कि शिकायतकर्ता अधिवक्ता मलकीत सिंह ने शिकायत में रणदीप हुड्डा पर आरोप लगाया कि उन्होंने एक टॉक शो के में दलित समाज की सर्वमान्य नेत्री व बसपा सुप्रीमो मायावती के बारे में अश्लील, आपत्तिजनक, जातिवादी, महिला विरोधी व नस्लवादी टिप्पणी करते हुए एक जोक सुनाया जो कि बेहद अश्लील था तथा इस जोक में उक्त अभिनेता ने दलित नेता मायावती का नाम लेकर अंग्रेजी भाषा में जोक सुनाया जिसे सोशल मीडिया व टीवी पर पूरी दुनिया में देखा गया तथा पूरी दुनिया में मौजूद करोड़ों दलित समाज के लोगों की भावनाएं इससे आहत हुई हैं।

अभिनेता रणदीप हुड्डा जाट समाज से ताल्लुक रखता है तथा उसने किक, सरबजीत, हाईवे, सुल्तान, राधे जैसी हिट फिल्मों में अपना किरदार निभाया है। आरोप है कि रणदीप हुड्डा ने जान बूझकर पूरे दलित समाज की भावनाओं को ठेस पहुंचाई है। शिकायतकर्ता ने एसपी से उक्त अभिनेता के ख़िलाफ़ ST/ST के तहत मुकदमा दर्ज करके गिरफ्तार करने की मांग की गयी है।

गौरतलब है कि रणदीप हुड्डा का एक टॉक शो का वीडियो क्लिप वायरल हो रहा है जिसमे वो बसपा अध्यक्ष व यूपी की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती खिलाफ़ ‘जातिवादी’ हिंसक व यौनकुंठित कमेंट करते देखे सुने जा रहे हैं। वायरल हो रही क्लिप में रणदीप हुड्डा कहते हैं कि  ‘डर्टी जोक’ सुनाएंगे। आगे वो कहते है कि ‘मिस मायावती 2 बच्चों के साथ गली में जा रही थीं। वही पर खड़े एक शख्स ने पूछा क्या ये दोनों बच्चे जुड़वां हैं? रणदीप हुड्डा आगे बोलते हैं कि इस के जवाब में उन्होंने कहा- नहीं, एक 4 साल का है और दूसरा 8 साल का, इस के बाद में उस शख्स ने फिर कहा कि मुझे तो विश्वास नहीं होता कि कोई आदमी वहां दो बार भी जा सकता है।’

मायावती दलित स्त्रियों के लिये एक रोल मॉडल हैं। रणदीप हुड्डा ने मायावती के बहाने दलित स्त्री की यौनिकता का मजाक उड़ाकर अपनी सवर्णवादी हिंसक व घृणित पुरुष मानसिकता का मुजाहिरा किया है। रणदीप हुड्डा जैसी मानसिकता का एकजुट स्वर में विरोध होना चाहिये।

बता दें कि रणदीप हुड्डा से पहले ‘फेमिनिज्म इन इंडिया’ की संस्थापक-सीईओ व एडिटर इन चीफ जपलीन पसरीचा व उसके बाद कामेडियन और यूट्यूबर अबीश मैथ्‍यू भी मायावती की यौनिकता पर ऐसी ही हिंसक व घृणित टिप्पणी कर चुके हैं।

This post was last modified on May 28, 2021 12:40 pm

Share
%%footer%%