Friday, April 19, 2024

गांधी पुण्यतिथि पर समाजिक न्याय और धार्मिक सौहार्द के लिए निकली संविधान यात्रा

नीमच। गांधी विचार की संस्था “गांधी 150” द्वारा 30 जनवरी को गांधी पुण्यतिथि पर मंदसौर के तहसील मनासा में संविधान यात्रा निकाली गई। यात्रा में संविधान की प्रस्तावना का वितरण, वाचन एवं शपथ ली गई। साथ ही गांधी के सत्य, अहिंसा और स्वराज्य की अवधारणा पर लोगों के बीच संवाद किया गया। शुरुआत में गांव बरथून स्थित गांधी प्रतिमा पर पुष्पांजलि अर्पित करने के पश्चात सर्वधर्म प्रार्थना का आयोजन हुआ। गांव के पूर्व सरपंच दीनबंधु बैरागी द्वारा उनके कार्यकाल में गांधी प्रतिमा स्थापित करने के लिए स्मृति चिन्ह एवं ’हम भारत के लोग’ पुस्तक भेंट कर सम्मानित किया गया। साथ ही गांधी चबूतरा प्रतिमा के लिए अपनी जमीन दान देने वालों का भी सम्मान किया गया।

इस दौरान खुदाई खिदमतगार दिल्ली के सोशल एक्टिविस्ट कृपाल मंडलोई ने संविधान यात्रा के उद्देश्य, गांधी विचार आज की जरूरत पर प्रकाश डाला। प्रार्थना सभा को मनासा के वरिष्ठ समाजसेवी महेश मालिक, मानवाधिकार आयोग के पूर्व सदस्य व प्रसिद्ध रंगकर्मी विजय बैरागी, अधिवक्ता एवं अपर लोक अभियोजक गुलाब सिंह चंद्रावत, सामाजिक कार्यकर्ता महेंद्र उपाध्याय ने संबोधित किया। कार्यक्रम का संचालन गांधी 150 के कार्यक्रम संयोजक महेश नंदवाना ने किया।

इसके पश्चात संविधान यात्रा प्रारंभ हुई जो गांव महागढ़ पहुंची। महागढ़ में मुख्य बाजार व चौराहे पर संविधान की प्रस्तावना का वितरण एवं वाचन किया गया। इसके पश्चात् मनासा कारगिल चौराहा स्थित अन्नपूर्णा मंदिर परिसर में कार्यक्रम का अयोजन हुआ यहां नौजवान सभा के प्रतिनिधि यश लोहार ने संविधान की शपथ दिलाई।

संविधान यात्रा का गांव भाटखेड़ी में शारदा विद्या निकेतन, विद्यासागर स्कूल के बच्चों द्वारा जोरदार स्वागत किया गया। यहां बच्चों के बीच कविताओं, गीतों के माध्यम से संविधान व गांधी विचार पर संवाद हुआ इस अवसर पर इन संस्थाओं के प्रमुख क्रमशः कमलेश पाटीदार एवं रामचंद्र पाटीदार ने इस आयोजन के लिए आभार व्यक्त किया। संविधान यात्रा के गांव परदा पहुंचने पर वहां स्थानीय लोगों के बीच प्रस्तावना वितरण किया गया। यात्रा का समापन आदिवासी बहुल गांव खेलड़ी में हुआ स्थानीय लोगों और बच्चों के बीच सर्वधर्म प्रार्थना सभा का आयोजन हुआ यहां देश के प्रसिद्ध आर्टिस्ट व बीबीसी लंदन से पुरस्कृत मदन राठौर ने इस यात्रा की अगवानी की। इसके पश्चात पंगत में संगत स्नेह भोज के साथ संविधान यात्रा का समापन हुआ।

गांधी विचार को लेकर निकली इस यात्रा में क्षेत्र के सामाजिक, सांस्कृतिक संगठनों के प्रतिनिधियों ने भाग लिया। इसमें शिक्षाविद श्याम शालवी, जगदीश मालवीय, समरथ चोरडिया, नितेश मालवीय, अयूब खान, अनिल पुरोहित, गौरव तिवारी, यश लोहार, ललित माहेश्वरी, प्रेमसिंग रावत, हरिदास बैरागी कुकड़ेश्वर, नीमच के युवा मोर्चा के दिनेश लोहार, निखिल चौहान, साहिल शेख उपस्थित रहे।

(प्रेस विज्ञप्ति पर आधारित।)

जनचौक से जुड़े

0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments

Latest Updates

Latest

ग्राउंड रिपोर्ट: बढ़ने लगी है सरकारी योजनाओं तक वंचित समुदाय की पहुंच

राजस्थान के लोयरा गांव में शिक्षा के प्रसार से सामाजिक, शैक्षिक जागरूकता बढ़ी है। अधिक नागरिक अब सरकारी योजनाओं का लाभ उठा रहे हैं और अनुसूचित जनजाति के बच्चे उच्च शिक्षा प्राप्त कर रहे हैं। यह प्रगति ग्रामीण आर्थिक कमजोरी के बावजूद हुई है, कुछ परिवार अभी भी सहायता से वंचित हैं।

Related Articles

ग्राउंड रिपोर्ट: बढ़ने लगी है सरकारी योजनाओं तक वंचित समुदाय की पहुंच

राजस्थान के लोयरा गांव में शिक्षा के प्रसार से सामाजिक, शैक्षिक जागरूकता बढ़ी है। अधिक नागरिक अब सरकारी योजनाओं का लाभ उठा रहे हैं और अनुसूचित जनजाति के बच्चे उच्च शिक्षा प्राप्त कर रहे हैं। यह प्रगति ग्रामीण आर्थिक कमजोरी के बावजूद हुई है, कुछ परिवार अभी भी सहायता से वंचित हैं।