Monday, January 24, 2022

Add News

सुसंस्कृति परिहार

स्टेन स्वामी के खून से रंग गया है सरकार और अदालतों का दामन!

मानवाधिकार कार्यकर्ता स्टे्न स्वामी के निधन के समाचार ने सारी दुनिया को हिला के रख दिया है। ऐसी निर्ममता कभी मुस्लिम और अंग्रेज शासकों ने भी नहीं की। जिस तरह झूठी और क्रूरतम  भारत सरकार ने आज अपने अड़ियल...

महिला उत्पीड़न की राजधानी बन गया है एमपी

मध्यप्रदेश में इन दिनों महिलाओं की हत्याओं और उन पर घरेलू हिंसा के अलावा सार्वजनिक तौर पर बेइंतहा मारपीट की रोज़ाना वारदातें सामने आ रही हैं। कोरोना कर्फ्यू की वजह से आंकड़ों में कमी बनी रही लेकिन उस वक्त...

दीपिका का रोटी के संघर्ष से दुनिया की नंबर वन खिलाड़ी का सफर!

कल 30 जून है। दीपिका की शादी की पहली सालगिरह। दीपिका और उनके पति अतनु दास की जोड़ी ने मिश्रित युगल में स्वर्णपदक लेकर खेल इतिहास में अपना नाम दर्ज कराया है। इस नामवर जोड़ी को दोहरी बधाईयां। दीपिका कुमारी...

आपातकाल से भी भयावह है वर्तमान काल !

सन् 1975 का 26 जून से लेकर 21 मार्च 1977 का वह काला दौर जब तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने आपातकाल को समय की जरूरत बताते हुए उस दौर में लगातार कई संविधान संशोधन किये। 40वें और 41वें संशोधन...

राष्ट्र मंच की बैठक में हुई बदलाव और विपक्षी एकता की पहल

लोकसभा चुनाव 2024 से पहले राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) के अध्यक्ष शरद पवार एक बड़ी पहल के तहत कले से विपक्षी एकता के लिए कदम उठाना शुरू कर दिए हैं। पहले दौर में पवार ने मंगलवार शाम नई दिल्ली...

सत्ता की टकसाल में ढाले जाएंगे लेखक

जी हां, हमारी सरकार के मंसूबे बहुत बुलंद हैं और उसने देश में एक ऐसी युवा  लेखकों की फौज बनाने की पिछले नौ जून को घोषणा भी कर दी है। इस फौज में आज़ादी के 75वें सालगिरह में पहले...

दिल्ली हाईकोर्ट की लताड़ के बाद भी क्या सरकार कुछ सीख पाएगी?

आखिर दिल्ली हाईकोर्ट के जस्टिस सिद्धार्थ मृदुल और जस्टिस नूप जे भंभानी की बेंच ने दिल्ली में हिंसा भड़काने के मामले में सामाजिक कार्यकर्ता नताशा नरवाल, देवांगना कलीता और जामिया मिल्लिया के एक छात्र आसिफ इकबाल तन्हा को जमानत...

राम जी की चिड़िया, राम जी का खेत; खालो चिड़िया भर-भर पेट

राम मंदिर निर्माण ट्रस्ट पर इन दिनों भूमि खरीद घोटाला का एक आरोप लगाया गया है। बताया जा रहा है कि राम जन्मभूमि मंदिर निर्माण के लिए 18.5 करोड़ की जो ज़मीन ख़रीदी गई वह दस मिनट पहले दो...

चलती बिरिया ओढ़ाए दे चदरिया!

उफ! बड़े अफ़सोस की बात है कि देश के सबसे बड़े कथित सांस्कृतिक संगठन राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ ने जो सरकार का रिमोट कंट्रोल केंद्र है अब हमारे कथित सबसे लोकप्रिय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी साहिब पर अपनी नज़रें टेढ़ी कर...

दो जून की रोटी का सवाल !

एक जून से अधिकांश जगह कोरोना कर्फ्यू से कुछ हिदायतों के साथ काम करने और बाजार खुलने का ऐलान हुआ है। आज दो जून है और दो जून की रोटी  मुहावरा शब्दकोष की जैसे अमूल्य धरोहर ही बन गया...

About Me

42 POSTS
0 COMMENTS

Latest News

कब बनेगा यूपी की बदहाली चुनाव का मुद्दा?

सोचता हूं कि इसे क्या नाम दूं। नेताओं के नाम एक खुला पत्र या रिपोर्ट। बहरहाल आप ही तय...