Monday, February 6, 2023

जातीय उत्पीड़न की भेंट चढ़ा मेडिकल छात्र, आरोपियों को बचा रही योगी सरकार

आज़ादी के अमृत महोत्सव वर्ष में एक दलित मज़दूर दंपति ने भी सपना देखा ज़िल्लत, हिकारत, छुआछूत, ग़ैरबराबरी से आज़ादी का, और अपने सपने को साकार करने के लिये...

ग्राउंड रिपोर्ट: भारत जोड़ो यात्रा में आधी जमीन की रही पूरी भागीदारी

पठानकोट/ श्रीनगर। कश्मीर के श्रीनगर में भारत जोड़ो यात्रा का आज यानि 30 जनवरी को समापन हो गया।...

सरकार ने दिया है जोशीमठ सरीखी आपदाओं को न्योता: अतुल सती

(जनचौक की कंट्रीब्यूटिंग एडिटर अल्पयु सिंह ध्वंस के कगार पर खड़े जोशीमठ के दौरे पर गयी थीं। उन्होंने...

ग्राउंड रिपोर्ट: कस्तूरबा नगर नहीं, लोगों के ख्वाबों पर चल रहा बुलडोजर

नई दिल्ली। राजधानी दिल्ली के कस्तूरबा नगर कॉलोनी की एक दलित लड़की के मन में डॉक्टर बनने के...

ग्राउंड रिपोर्ट पार्ट-2: जोशीमठ की दरारें कैसे बनीं ‘द लास्ट लीफ़’?

ओ हेनरी की कहानी 'द लास्ट लीफ'तो सबने पढ़ी होगी। कहानी में एक लड़की जॉन्सी को निमोनिया हो...

उत्तर भारत जीतने के लिए दक्षिण में आग से खेल रही है भाजपा

भारतीय जनता पार्टी ने कई बार यह बात साबित किया है कि वह चुनाव जीतने के लिए कुछ भी कर सकती है। इस सिलसिले में वह धार्मिक और सांप्रदायिक विभाजनकारी मुद्दे तो उठाती ही रहती है। इन्हीं मुद्दों के सहारे उसने केंद्र सहित कई राज्यों में सत्ता हासिल की है और उसी सत्ता को बरकरार रखने यानी आगामी लोकसभा चुनाव जीतने के लिए वह भाषाई विवाद पैदा करने, क्षेत्रीय अस्मिताओं का अपमान करने और राष्ट्रीय एकता को संकट में डालने जैसे मुद्दे उठाने से भी बाज नहीं आ रही है। हाल ही में तमिलनाडु के राज्यपाल आरएन रवि की ओर से छेड़ा गया तमिलनाडु के नाम को लेकर उठाया गया सवाल भी भाजपा की इसी राजनीति का हिस्सा है। आमतौर पर भाजपा की विरोधी पार्टियों के शासन वाले सूबों के राज्यपाल अपनी उटपटांग हरकतों और बयानों की वजह से अक्सर चर्चा में रहते हैं। वे अपने सूबे की सरकार के...

रैदास का बेगमपुरा बनाम तुलसी का रामराज्य

डॉ. आंबेडकर ने अपनी किताब ‘प्राचीन भारत में क्रांति और प्रतिक्रांति’ में भारत के इतिहास को क्रांतियों और प्रतिक्रांतियों के इतिहास के रूप में चिन्हित किया है। वे बहुजन-श्रमण...

कब आएगा अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजातियों के लिए अमृत काल?

1 फरवरी को पेश किए गए आम बजट में एक बार फिर वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने आने वाले सुनहरे...

घोटाले की कालिख तले अडानी को ‘इंडिया’ होने का गुमान

भारत में 21वीं सदी के सबसे बड़े घोटाले, ठगी और बेईमानी पर दुनिया भर में भारत की सरकार और उसके कॉरपोरेट की भद्द पिटी...

जरूरी खबर

हम से जुड़े रहें

जनचौक पोर्टल से दैनिक ईमेल प्राप्त करें। खबरें जो आप से जुड़ी होती हैं। देश और दुनिया की होती हैं। खबरें जिन्हें छुपाया जाता है। वह सब कुछ यहां मिलेगा नि:शुल्क।

0 / ₹500

426 अन्य की तरह आप भी जनचौक के सहयोग के साथी बनें।

जंतर-मंतर

संस्कृति-समाज

राज्य

अवैध खनन बनी मजबूरी, चाल धंसने से दबकर मर रहे हैं मजदूर

गिरिडीह। झारखंड के गिरिडीह में कोयले के अवैध खनन के दौरान चाल धंसने से मजदूर प्रकाश पासवान की मौत हो गई। बताया...