2024 का चुनाव संविधान और लोकतंत्र को बचाने का चुनाव है: दीपंकर भट्टाचार्य

Estimated read time 1 min read

झारखंड रांची के भाकपा माले कार्यालय महेन्द्र सिंह भवन में आज 22 अप्रैल को आयोजित एक प्रेस वार्ता में भाकपा-माले के राष्ट्रीय महासचिव दीपंकर भट्टाचार्य ने कहा कि – “हमारी पार्टी संविधान और लोकतंत्र के पक्ष में प्रतिबद्ध है। इसलिए रांची के उलगुलान न्याय रैली में इंडिया गठबंधन के आयोजित कार्यक्रम में हम लोकतंत्र और संविधान की बात कर रहे थे। वहीं देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी राजस्थान के चुनावी सभा में आचार संहिता का धज्जियां उड़ाते हुए संविधान विरोधी नफ़रत बांट रहे थे”।

प्रेस को संबोधित करते हुए उन्होने कहा कि “चुनाव आयोग को हमने अपील भेजी है अब देखना है कि बड़े से बड़े नेताओं पर कार्रवाई का दावा करने वाला चुनाव आयोग मोदी जी पर कार्रवाई करता है या नहीं। सीएसडीएस के सर्वे से पता चलता है कि 50% नागरिकों को महंगाई-बेरोज़गारी पर चिंता है। देश का पहला ऐसा चुनाव है जहां लोगों को आशंका है कि आने वाले समय में चुनाव होगा कि नहीं। जिस संविधान से देश चलता है वो संविधान बचेगा कि नहीं। इस आशंका को बल तब मिलता है जब 400 पर नारे के लक्ष्य को भाजपा अनंत कुमार हेगड़े, लल्लू सिंह, अरुण गोविल संविधान बदलने के साथ जोड़ रहे हैं”।

भाकपा-माले के महासचिव ने अपनी बात को आगे बढ़ाते हुए कहा कि “वहीं मोदी जी के आर्थिक सलाहकार ने भी संविधान बदलने के लिए लेख लिख डाला। इस चुनाव के बाद उस संविधान जिससे लोकतंत्र, संसदीय प्रणाली, दलित-आदिवासियों का आरक्षण और नगारिकों की आजादी जुड़ी है जबरदस्त हमले होने वाले हैं। 2024 का यह चुनाव संविधान और लोकतंत्र को बचाने का चुनाव है।”

प्रेस कॉन्फेंस करते भाकपा-माले लिबरेशन के महासचिव दीपंकर भट्टाचार्य

दीपंकर ने आगे कहा कि “हमें इंडिया गठबंधन से एक सीट कोडरमा मिला है। कॉ० विनोद कुमार सिंह उम्मीदवार हैं। जो बगोदर से विधायक हैं। का. विनोद सिंह झारखंड विधानसभा में कई वर्षो से जनसंघर्षो और न्याय की आवाज बने हुए हैं। कोडरमा की जनता में बिल्कुल यह इच्छा है कि यह आवाज विधानसभा से आगे बढ़कर अब संसद में गूंजे।”

महासचिव ने कहा कि “पहले चरण में मतदान का प्रतिशत कम रहा। हम इस प्रेस वार्ता के माध्यम से लोगों से अपील करते हैं कि एक जागरूक नागरिक की तरह अधिक से अधिक मतदान करें। जनता के पास संविधान से मिला वोट की ताकत है, अतः आप उसका इस्तेमाल कर आजादी के शहीदों और आजादी के आंदोलन में अपनी महती भूमिका निभाने वालों के सपने को पूरा कर सकते हैं।” 

प्रेस वार्ता में पार्टी के राज्य सचिव मनोज भक्त, पोलितब्यूरो सदस्य जनार्दन प्रसाद, केंद्रीय कमेटी सदस्य शुभेंदू सेन सहित गीता मंडल भी उपस्थित थी।

(प्रेस विज्ञप्ति पर आधारित)

You May Also Like

More From Author

0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments