Estimated read time 1 min read
संस्कृति-समाज

पुस्तक समीक्षा: धरती की अंतर्निभरता

चंद्रभूषण की ‘प्रलय का प्रतिपक्ष’ 2024 में कौटिल्य बुक्स से छपी है। इसका उप-शीर्षक ‘पशु-पक्षी, कीट-पतंगे और ग्लोबल वार्मिंग’ है। लगभग डेढ़ सौ पृष्ठों की [more…]

Estimated read time 1 min read
संस्कृति-समाज

विश्व की प्राचीनतम इंडोनेशियाई गुफा-चित्र भारत के पुरातत्व अध्ययन में उम्दा पाठ है

पंचमढ़ी। पुरातत्व की दुनिया में हाल ही में एक महत्वपूर्ण खबर छपीः इंडोनेशिया में विश्व का प्राचीनतम गुफा चित्र मिला। यह खबर भारत में भी [more…]

Estimated read time 2 min read
संस्कृति-समाज

पुस्तक समीक्षा: ‘आतंकवाद का फर्जी ठप्पा’

‘आतंकवाद का फर्जी ठप्पा’ जैसा कि नाम से ही अंदाजा लगाया जा सकता है, यह एक नौजवान लड़के की खुदपर आतंकवादी होने के फर्जी ठप्पे [more…]

Estimated read time 1 min read
संस्कृति-समाज

जन्म दिवस विशेष: ‘अंगारे’ के अहम अफ़साना निगार अहमद अली

हिंदुस्तानी अदब में प्रोफ़ेसर अहमद अली की पहचान ‘अखिल भारतीय प्रगतिशील लेखक संघ’ के संस्थापक सदस्य और ‘अंगारे’ के अफ़साना निगार के तौर पर होती [more…]

Estimated read time 2 min read
संस्कृति-समाज

जनकवि नागार्जुन जन्म दिवस विशेष: ‘जनकवि हूं साफ़ कहूंगा क्यों हकलाऊं’

‘जनता पूछ रही क्या बतलाऊं, जनकवि हूं साफ़ कहूंगा क्यों हकलाऊं।’ ये पंक्तियां बाबा नागार्जुन की कविता की हैं। इसमें वे स्पष्ट शब्दों में कहते [more…]

Estimated read time 1 min read
संस्कृति-समाज

सरोज सम्मान-2024 यश मालवीय को, ग्वालियर में होगा समारोह

वर्ष 2024 के जनकवि मुकुट बिहारी सरोज सम्मान से हिंदी के प्रमुख कवि, नवगीतकार, व्यंगकार, बहुमुखी प्रतिभावान साहित्यकर्मी यश मालवीय को अभिनंदित किया जाएगा। सरोज [more…]

Estimated read time 1 min read
संस्कृति-समाज

स्वामी सहजानंद सरस्वती के किसान आंदोलन में लेखकों-कवियों की थी सहभागिता

आजादी की लड़ाई में गणेश शंकर विद्यार्थी से लेकर रामनरेश त्रिपाठी, माखनलाल चतुर्वेदी, मैथिलीशरण गुप्त, राहुल सांकृत्यायन और रामबृक्ष बेनीपुरी और उग्र तथा अज्ञेय ने [more…]

Estimated read time 1 min read
संस्कृति-समाज

सुरजीत पातर: व्यवहारिक जीवन-बोध के कवि

बिला-शक, सुरजीत पातर (14 जनवरी 1945-11 मई 2024) हिन्दी साहित्य की दुनिया में समकालनीन पंजाबी कविता की पहचान बन गए थे। पिछले तीस सालों से [more…]

Estimated read time 2 min read
संस्कृति-समाज

दो ‘आपातकालों’ का कैदी

‘आगे और लड़ाई है’ प्रबीर पुरकायस्थ की आत्मकथा है। अंग्रेजी में लिखी उनकी आत्मकथा ‘किपिंग अप द गुड फाइट’ का यह अनुवाद है। इसमें छात्र-जीवन, [more…]

Estimated read time 1 min read
संस्कृति-समाज

पी. थंकप्पन नायरः इतिहास का अनथक अन्वेषक

19 जून, 2024 को एक छोटी सी खबर छपीः ‘‘बेयरफुट हिस्टोरियन’ जिन्होंने कोलकाता के इतिहास को दर्ज किया, केरल में 91 साल की उम्र में [more…]