संस्कृति-समाज

हिंदू कोरोना शहीदों को मोदी का नायाब तोहफा!

अस्पताल के बेड पर जवान बेटे की सांसें जैसे बूढ़ी हो चली हैं। ख़ूब कोशिश करती हैं चलने की पर…

2 months ago

‘द लिस्ट : मीडिया ब्लडबाथ इन कोविड टाइम्स’ यानी पत्रकारों पर कोरोना कहर की जिंदा दास्तान

ऐसा माना जाता है कि पत्रकारिता एवं फिल्में समाज का आईना होती हैं। समाज में जो कुछ हो रहा होता…

2 months ago

गुरू तेग बहादुर, सिख पंथ और मुगल

इस साल (2021) 01मई को नौवें सिख गुरू तेग बहादुर की 400वीं जयंती मनाई गई। सिख पंथ को सशक्त बनाने…

3 months ago

मैं खोज में हूँ!

मैं खोज में हूँ, खोज रहा हूँ अपने अंदर, अपने आस पास ‘इंसानियत’! उलझन... उलझनों को सुलझाने की युक्ति/तरकीब खोज…

3 months ago

समता का यलगार है मंजुल का नाटक ‘लोक-शास्त्र सावित्री’

मेरे पुराने मित्र मंजुल भारद्वाज का जब फोन आया कि 27 मार्च 2021 को सुबह 11:30 थाना के गडकरी रंगायतन…

3 months ago

जब जलियांवाला बाग बन गया आजादी की लड़ाई का नया लांचिंग पैड

भारत की आजादी के आंदोलन में जिस घटना ने देशवासियों पर सबसे ज्यादा असर डाला, वह है जलियांवाला बाग हत्याकांड।…

4 months ago

भारतीय पुनर्जागरण के जनक जोतीराव फुले : एक संक्षिप्त परिचय

तुम कैसे बेशर्म हुए, वश में होकर इन ब्राह्मणों के नित छूने को चरण अरे तुम झुक जाते हो यों…

4 months ago

सांस्कृतिक भड़ैंती और फूहड़पन के विरुद्ध, जन संस्कृति के संवर्द्धन का बिगुल बजाता ‘लोकरंग’

“सांस्कृतिक भड़ैंती और फूहड़पन के विरुद्ध, जन संस्कृति के संवर्द्धन के लिए” टैगलाइन के साथ साल 2008 में शुरु हुआ…

4 months ago

चंद्रशेखर का शहादत दिवस: बचपन में ही पड़ गए थे क्रांति के बीज

(चंदू यानी चंद्रशेखर का नाम एकबारगी सामने आते ही जेहन में सिहरन सी उठ जाती है। और फिर न जाने…

4 months ago

इतिहासकार डी. एन. झा: हिंदुत्व केंद्रित इतिहास दृष्टि को निर्णायक चुनौती

66वें भारतीय इतिहास कांग्रेस (2006) को अध्यक्ष के रूप में संबोधित करते हुए डी. एन. झा ने इतिहासकारों-बुद्धिजीवियों- कहा कि…

4 months ago