Subscribe for notification

अंजनी कुमार

दिल्ली के करीब डेढ़ लाख परिवारों के पास शौचालय नहीं, सर्वे में खुलासा

दिल्ली सरकार का सामाजिक-आर्थिक सर्वेक्षण, 2018-2019 जारी हुआ है। सर्वे के अनुसार इस शहर में 20.05 लाख परिवार हैं। 42.6…

3 days ago

यातना घर में बदलता देश

अभी मुंबई के रंगमंच का दृश्य फेड-आउट भी नहीं हुआ था, दिल्ली दंगे की चार्जशीट में नये नाम जुड़ जाने…

4 days ago

हकीकत और फसाने के बीच ऑनलाइन की फसंत

इस लॉकडाउन के दौरान ऑनलाइन पढ़ाई, ऑनलाइन काम, डिजिटल भुगतान, ट्विटर आंदोलन, वेबिनार जैसे शब्द तेजी से हमारी भाषा का…

1 week ago

विकास नहीं, यह मौत का है रास्ता

वह समाज खूबसूरत होता है जो अपनी कमियों को हंसते हुए स्वीकार करे और उसे ठीक करने के लिए कमर…

2 weeks ago

झुग्गियां नहीं, न्यायपालिका से न्याय उजड़ा है!

न्यायमूर्ति अरुण कुमार मिश्रा सर्वोच्च न्यायालय के कार्यभार से रिटायर हो गये। जाने के पहले उन्होंने वकील प्रशांत भूषण पर…

2 weeks ago

फेसबुक की सलीब पर टंगा लोकतंत्र

वाॅल स्ट्रीट जर्नल ने एक बार फिर फेसबुक की वह रिपोर्ट दिया है। जो भारत की राजनीतिक पार्टियां भाजपा और…

3 weeks ago

वेंटिलेटर पर पड़ी अर्थव्यवस्था को चाहिए जनता का खून

मजदूर शहर में वापस आ रहे हैं। राज्य अंतर्राज्यीय आवाजाही में क्वारंटाइन करने की अनिवार्यता खत्म कर रहे हैं जिससे…

3 weeks ago

न्यायिक संस्था नहीं! सरकार का हथियार बन गया है सुप्रीम कोर्ट

कोर्ट की ‘अवमानना’ हो गई है, न्यायाधीश ने यही माना है। ‘अवमानना’ मुख्य न्यायाधीश एसए बोबडे पर की गयी टिप्पणी…

1 month ago